Breaking News
Home / अपराध / लखनऊ में मुठभेड़ समाप्त, मारा गया आतंकी

लखनऊ में मुठभेड़ समाप्त, मारा गया आतंकी

लखनऊ। दुबग्गा इलाके की हाजी कालोनी के एक घर में छिपे आतंकी को एटीएस कमांडो ने करीब 12 घंटे तक चले मुठभेड़ के बाद मार गिराया। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी ने इस बात की पुष्टि की है। एटीएस के आइजी असीम अरुण ने बताया कि घर में छिपे आतंकी को मार दिया गया है। बताया जा रहा है कि मारा गया आतंकी मध्यप्रदेश में मंगलवार को भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में हुए विस्फोट मामले का आरोपी सैफुल्लाह है। सूबे में अंतिम चरण के चुनाव से पहले लखनऊ में मंगलवार को काकोरी थाना क्षेत्र के दुबग्गा स्थित हाजी कालोनी में कुछ आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। इसके बाद शाम करीब तीन बजे एटीएस ने घर की घेराबंदी कर दी और आतंकियों को पकड़ने का ऑपरेशन शुरू किया। रात ढाई बजे के करीब एटीएस के कमांडो दिवार तोड़कर घर में घुस गए, और वहां छिपे आतंकी को मार गिराया। इससे पहले वहां दो आतंकियों के होने की आशंका जताई जा रही थी। एटीएस को सूचना मिली थी कि मलिहाबाद निवासी बादशाह खान के मकान में कुछ आतंकी छिपे हैं। एटीएस के 20 कमांडो ने आस-पड़ोस के मकानों पर घेराबंदी कर ली और आतंकी से समर्पण को कहा तो आतंकियों ने अंदर से फायरिंग शुरू कर दी। आंतकी को कमरे से बाहर निकालने के लिए कमांडो ने पहले आंसू गैस का इस्तेमाल किया। इसके बावजूद आतंकी सरेंडर को तैयार नहीं हुआ थोड़ी देर बाद आतंकियों को काबू करने के लिए मिर्ची बम का भी इस्तेमाल किया लेकिन यह भी कारगर नहीं रहा। ऑपरेशन लंबा खिंचने और रात का अंधेरा होने के चलते एटीएस कमांडो के लिए नाइट विजन कैमरे भी मंगाए गए थे। सूत्रों के अनुसार आतंकियों के निशाने पर कई बड़े वीआईपी नेता थे। इस बात का खुलासा पकड़े गये आतंकवादियों से बातचीत तथा उनके पास मिले रोड मैप से खुलासा हुआ है।

About admin

Check Also

दोस्त की दगाबाजी: गाड़ी में लगाया ब्रेक और जिंदगी ही थम गयी

मिजार्पुर। जिसे वह अपने भाई की तरह मानता था,  दोनों एक ही कम्पनी में एक …