Breaking News
Home / ग़ाज़ीपुर / भाजपा को जीरो से हीरो बनाने में मनोज, चंचल और ओमप्रकाश राजभर की तिकड़ी ने मचायी धमाल

भाजपा को जीरो से हीरो बनाने में मनोज, चंचल और ओमप्रकाश राजभर की तिकड़ी ने मचायी धमाल

शिवकुमार

गाजीपुर। जिले के सातों विधानसभाओं में भाजपा-भासपा गठबंधन की लहर बनाने और मिशन को अंजाम देने के भगीरथ प्रयास करने वालों में रेल राज्‍य मंत्री मनोज सिन्‍हा के अलावा भासपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ओमप्रकाश राजभर तथा एमएलसी विशाल सिंह चंचल का नाम राजनैतिक जगत में तेजी से उभर कर आया है। तीन नेताओं की यह तिकड़ी भाजपा को शून्‍य से उठाकर सातों सीटों पर बहुमत दिलाने की तरफ अग्रसर हो गयी है। बस इंतेजार है 11 मार्च के मतगणना की। रेल राज्‍य मंत्री मनोज सिन्‍हा ने अपने राजनैतिक कैरियर के रिस्‍क पर भाजपा के हाईकमान से बिंद और कुशवाहा बिरादरी को टिकट दिलवाकर जिले की राजनीति में एक अनूठा प्रयोग किया। जिससे विरोधी चारों खाने चित्‍त हो गये। इस टिकट बटवारे से क्षत्रप नेताओं ने बगावत भी किया। लेकिन राजनीति में मजे खिलाड़ी अपने शतरंज की बाजी से उस बगावत को मात दे दिया। मनोज सिन्‍हा ने पिछड़ो के साथ-साथ हरिजन को छोड़कर अन्य दलित बिरादरियों को भाजपा के पात पर बिठा दिया। जिले में राजनीति का सवर्ण, अति पिछड़ा व अति दलित का एक नया समीकरण पैदा कर दिया। यह समीकरण विधानसभा चुनाव में विरोधियों के चक्रव्‍यूह को अर्जुन की तरह तोड़ दिया। एमएलसी चंचल सिंह ने नाराज ठाकुरों को एक सूत्र में बांधकर भाजपा को नई ताकत दी। एमएलसी चंचल सिंह ने जमानियां विधानसभा में सपा के दिग्गज नेता व पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह के खिलाफ राजपूतों को लामबंद करने में बड़ी सफलता प्राप्‍त की। जिससे भाजपा वहां लड़ाई के मुख्‍य धारा में आ गयी। 2012 के विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्‍याशी बालकृष्‍ण त्रिवेदी केवल 44 सौ मत पाये थें। चंचल सिंह के प्रयास से राजपूत, कुशवाहा तथा अन्‍य बिरादरी भाजपा के पक्ष में लामबंद हो गयी। जिससे सुनीता सिंह जीत के लिए कड़ी टक्‍कर दे रही है। इसके अलावा चंचल सिंह ने करंडा के राजपूतों को जहूराबाद विधानसभा, जंगीपुर, जखनियां तथा सैदपुर के राजपूतों को भी भाजपा के पांत पर बिठाने के भगीरथ प्रयास किया और सफलता भी पायी। भाजपा के राष्‍ट्रीय अमित शाह की खोज हैं भारतीय समाज पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ओमप्रकाश राजभर। अमित शाह ने सारे अफवाहों व अटकलों को दरकिनार करते हुए ओमप्रकाश राजभर से हाथ मिलाया। ओमप्रकाश राजभर ने भी अमित शाह के विश्‍वास को ठेस नही पहुंचने दिया। ओमप्रकाश राजभर ने एड़ी से चोटी तक का जोर लगाकर अपनी दो सीटों के साथ-साथ जिले के अन्‍य पांचों विधानसभाओं में राजभर मतों को भाजपा के पक्ष में लामबंद कर दिया। इस गठबंधन से विरोधियों की हवा निकल गयी। यही नही पूर्वांचल की करीब 32 सीटों पर राजभरों ने भाजपा के लिए ईमानदारी से वोट किया। राजभरों के भाजपा के पक्ष में लामबंद होने से विरोधियों के सारे अंकगणित फेल हो गये। राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा है कि भाजपा को जीरो से हीरो बनाने में तीन नायकों मनोज सिन्‍हा, विशाल सिंह चंचल और ओमप्रकाश राजभर का बड़ा योगदान है।

About admin

Check Also

‘हक’ की लड़ाई और तेज करेंगे शिक्षामित्र

बलिया। संयुक्त शिक्षा मित्र संघर्ष समिति बैरिया की बैठक रविवार को बीआरसी बैरिया के सभाकक्ष …