Home / ग़ाज़ीपुर / कुशवाहा प्रत्याशियों के हारने से बिरादरी के चौधरियों में शुरू हो गयी छटपटाहट

कुशवाहा प्रत्याशियों के हारने से बिरादरी के चौधरियों में शुरू हो गयी छटपटाहट

गाजीपुर। विधानसभा चुनाव में कुशवाहा समाज के तीनों प्रत्‍याशियों के करारी हार से बिरादरी के चौधरियों में काफी व्‍याकूलता है। राजनैतिक गलियारों में चर्चा है कि कुशवाहा बिरादरी ने भाजपा के हर प्रत्‍याशियों जीता तो दिया लेकिन अपनी सीट को जीतने में नाकाम रहे। आजादी के बाद जिले में कुशवाहा बिरादरी पर सभी दलों ने एकतरफा विश्‍वास करते हुए भाजपा ने जंगीपुर विधानसभा से एडवोकेट रामनरेश कुशवाहा, सपा ने सदर विधानसभा से राजेश कुशवाहा तथा कांग्रेस पार्टी ने गठबंधन के तहत मुहम्‍मदाबाद के जनक कुशवाहा पर दांव लगाया था। चुनाव परिणाम में जनक कुशवाहा की लाखों मतों से हार हो गयी। इनको न बिरादरी को वोट मिला और न ही यादव समाज का। ये दोनों बिरादरी के वोट अंसारी बंधुओं के रिएक्‍सन में भाजपा प्रत्‍याशी को अलका राय पर चले गये। परिणाम स्‍वरुप अलका राय भारी बहुमत से जीत गयी। गाजीपुर सदर विधानसभा में राजेश कुशवाहा पर बिरादरी पूरी तरह से वफादार नही रही। समाजवादी पार्टी यह चुनाव करीब 32 हजार वोट से हार गयी। जंगीपुर विधानसभा से भाजपा के रामनरेश कुशवाहा पर बिरादरी ने भरोसा जताया लेकिन जन अधिकार मंच के प्रत्‍याशी अजीत कुशवाहा ने उनका खेल बिगाड़ दिया। चुनाव के शुभारंभ जिस कुशवाहा बिरादरी का झंडा बुलंदी पर था। मतगणना के बाद यह झंडा धाराशाही हो गया। जिसके चलते बिरादरी के चौधरियों में काफी छटपटाहट है कि भविष्‍य में अब कोई राजनैतिक दल इस बिरादरी पर दांव लगायेगा या नही।

About admin

Check Also

पुलिस को बदमाशों की चुनौती… एक सप्ताह में दूसरी लूट से सनसनी

रेवती, बलिया। थाना क्षेत्र के रेवती-बैरिया मार्ग पर कोलनाला रेलवे क्रासिंग व नौवाबारा के बीच …