Breaking News
Home / न्यूज़ बुलेटिन / नवरात्र मेला की तैयारियां पच्चीस मार्च तक पूर्ण कराने का निर्देश

नवरात्र मेला की तैयारियां पच्चीस मार्च तक पूर्ण कराने का निर्देश

मिर्जापुर। जगत जननी मां विन्ध्यवासिनी देवी के धाम विन्ध्याचल में प्रारम्भ होने वाले चैत्र नवरात्र की तैयारियों के लिये जिलाधिकारी कंचन वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी उपस्थित अधिकारियों से कहा कि मेला की तैयारियो का समय कम है परन्तु सभी अधिकारी पूरी निष्ठा व लगन के साथ लगकर मेला की तैयारियों को आगामी 25 मार्च तक किसी भी दशा में पूर्ण कराना सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को पिछले मेला का अनुभव है अतः किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होनी चाहिए। मेला क्षेत्र के आस-पास के सडकों को लेकर जिलाधिकारी काफी नाराज दिखी तथा अधिशाशी अभियन्ता नेशनल हाइवे के विरूद्ध उनके विभाग को पत्र लिखने का निर्देश अपर जिलाधिकारी को दिया। बैठक में बताया गया कि अधिशासी अभियन्ता एन0एच0 किसी भी महत्वपूर्ण बैठकों में नहीं आते। बैठक में उपस्थित अवर अभियन्ता को निर्देशित किया गया कि वे विन्ध्याचल आने वाली एन0एच0 की सडकों को प्राथमिकता के आधार ठीक कराये जहां पैचिंग की आवश्यकता हो तत्काल कराया जाये। बैठक में विस्तृत जानकारी देते हुये अपर जिलाधिकारी विजय बहादुर सिंह ने बताया कि सबसे महत्वपूर्ण कार्य नगर पालिका का है अतएव नगर पालिका के सभी बिन्दुओं पर कार्य करने के लिये कर्मचारियों को आज से ही लगा दिया जाये ताकि समय रहते कार्य पूरा कराया जा सके। उन्होंने बताया कि नगर पालिका द्वारा मंदिर की ओर जाने वाली सभी गलियों में अवस्थित पालिका के स्थाई प्रकाश बिन्दुओं पर बल्ब के स्थान पर ट्यूब लाइट लगाया जाये। गंगा किनारे अस्थाई शौचालयों का निर्माण कराना तथा उसके साफ-सफाई व वहां पर पानी की व्यवस्था कराना, पहले से ही पूर्ण कर लिया जाये। ईओ नगर पालिका संजय कुमार ने बताया कि नगर पालिका के द्वारा गंगा के किनारे 150 अस्थाई शौचालयों का निर्माण, महिलाओं के वस्त्र बदलने का स्थान आदि कराया जायेगा। अपर जिलाधिकारी ने कहा कि पूरे मेला क्षेत्र में अस्थाई बैरीकेंटिंग व्यवस्था, गंगा किनारे घाटों पर प्रकाश व्यवस्था, मेला क्षेत्र में प्रत्येक गलिया व नालिकों की सफाई, मेला क्षेत्र में ध्वनि विस्तारक यंत्र, पेयजल की व्यवस्था, ,खराब हैण्डपम्पों की मरम्मत, दुर्गन्ध युक्त स्थाना पर नालियों व नालों में दवाइयों का छिड़काव, मंदिर में विद्युत सजावट, घाटों पर प्रकाश व्यवस्था आदि का कार्य पूरा कराया जाये।  मेला क्षेत्र अवारा पशुओ को धड़-पकड़ तथा उन्हें सुरक्षित स्थान पर रखना आदि कार्य कार्य नगर पालिका व मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया पहले से ही अभियान चलाकर छुट्टा पशुओं को बाहर किया जाये। यह भी एलान किया जाये पशु मालिक अपने पशुओं को मेला के दौरान अपने घरों में रखें। अधिशासी अभियन्ता को अतिरिक्त ट्रासफार्मरों की व्यवस्था तथा जर्जर तारों को बदलना, मेला के दौरान 24 घंटें विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया। यह भी कहा गया कि किसी भी पोल पर बिजली/करेन्ट न उतरे इसके व्यवस्था की जाये। अपर मुख्य अधिकारी को निर्देशित किया गया कि गंगा नदी में गोताखार तथा मोटर वोट की व्यवस्थ सुनिश्चित कराये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित कुमार सिंह ने कहा कि सभी विकास से सम्बंधित विभाग अपने-अपने विभाग से सम्बंधित प्रदर्शनी सांस्कृतिक स्थल पर लगायें। अपर जिलाधिकारी ने ए0आर0एम0 रोडवेज, स्टेशन अधीक्षक रेलवे को अपने क्षेत्र में साफ-सफाई व समुचित व्यवस्था कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने-अपने विभाग से सम्बंधित कार्यो समय पर पूरा करायें। उन्होंने कहा कि इस किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। मेला क्षेत्र गलिया में दुकानदारों द्वारा किये गये अतिक्रमण को भी थानाध्यक्ष व नगर मजिस्ट्रेट संयुक्त रूप से टीम बनाकर हटवाने ताकि कहीं जाम की स्थिति न होने पाये। बैठक में नगर मजिस्ट्रेट चन्द्र प्रकाश, उप जिलाधिकारी चुनार डा0 अविनाश त्रिपाठी, उप जिला मजिस्ट्रेट बागीश शुक्ला, सीओ सिटी, जिला पूर्ति अधिकारी ए0के0 सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी विधु गुप्ता, सूचना अधिकारी ओम प्रकाश उपाध्याय, जिला पंचायत राज अधिकारी सहित अन्य सभी सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

About admin

Check Also

चोरी की घटना के पखवारे भर बाद भी पुलिस के हाँथ खाली

भदोही । सुरियावां थाना क्षेत्र के भोरी गाँव में सात मार्च की रात हुई डेढ़ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *