Breaking News
Home / चंदौली / भ्रष्टाचार के खिलाफ मुखर हुए किसान व ग्रामीण

भ्रष्टाचार के खिलाफ मुखर हुए किसान व ग्रामीण

चंदौली। सरकारी योजनाओं में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरोध में मजदूर किसान एकता मंच ने शनिवार को जिला मुख्यालय पर धरना दिया। इस दौरान मंच के सदस्यों ने प्रशासनिक अमले के साथ ही शासन को जमकर कोसा। आरोप लगाया कि कल्याणकारी योजनाओं में पात्रों को दरकिनार कर अपात्रों को शामिल किया जा रहा है, जो पूरी तरह से गलत है। अधिकारी व कर्मचारी नियम-कानून को ताक पर रखकर गरीबों का हक मार रहे हैं। इसे किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि बरहनी ब्लाक के किसान व मजदूर भ्रष्टाचार के खिलाफ पहले भी मुखर हो चुके हैं। यहां तक ही भ्रष्टाचार संबंधित समस्या के निवारण के लिए डीएम से गुहार भी लगाई। बावजूद इसके प्रशासनिक अमले ने इस ओर ध्या नहीं दिया। इसके चलते बरहनी ब्लाक के दर्जन भर गांव के ग्रामीण जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने से वंचित है, वहीं अपात्र लोग अफसरों व कर्मियों से मिलीभगत करके सरकारी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं। कहा कि गरीब किसान व ग्रामीणों के हक की लड़ाई मजदूर किसान एकता मंच लड़ता रहेगा। यदि जल्द किसानों की बात नहीं सुनी गई तो आंदोलन को गति दी जाएगी। इस मौके पर बरहनी ब्लाक के सोबंथा, भुजना, कोनिया, किल्ला, सवैय महलवार, बेदहा आदि गांव के मजदूर धरने में शामिल हुए।

 

About admin

Check Also

देश को स्वच्छ और सुन्दर बनाने के लिए उठाये झाडूः अनुप्रिया

मिर्जापुर। स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत 17 सितम्बर नरेन्द्र मोदी के जन्म दिन से 2 …