Home / न्यूज़ प्लस / सपा में ‘विभीषणों’ की तलाश शुरू

सपा में ‘विभीषणों’ की तलाश शुरू

बलिया। सपा के भीतर विधान सभा चुनाव में भितरघात करने वालो की तलाश शुरू हो गई है। चुनाव में किस प्रत्याशी को हराने में किसकी भूमिका रही है, उसकी सूची बनाने का जिम्मा जिलाध्यक्ष एवं महासचिव को सौंपा गया है। इसके लिए सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने जिले के पदाधिकारियों को पत्र भेजा है। प्रदेश अध्यक्ष द्वारा भेजे गये पत्र में साफ कहा गया है कि चुनाव की प्रक्रिया चार जनवरी 2017 से शुरू हुई थी। सपा ने सभी विधान सभा क्षेत्रों के प्रत्याशियों की सूची भी जारी कर दी थी। अखिलेश यादव द्वारा भी कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों से विधान सभा के प्रत्याशियों को जिताने के लिए एकजुट होकर लगने की अपील की गई थी, लेकिनि चुनाव के दौरान कई विधान सभा क्षेत्रों में पार्टी के घोषित प्रत्याशियों के विरोध में काम करने की सूचना हासिल हुई। यह सूचनाएं राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम को नियमित तौर पर मिलती रही, लेकिन चुनाव के दौरान इन पर कोई एक्शन नहीं लिया गया। अब चुनाव परिणाम घोषित हो चुका है। अब उनको चिन्हित कर उसकी सूचनाएं गोपनीय तौर पर भेजी जाय। बताया जा रहा है कि भितरघाती का नाम 31 मार्च तक भेजना है। इसके लिए बकायदा एक प्रोफार्मा भी आया है। इसमें विधान सभा क्षेत्र के नाम के साथ प्रत्याशी का विरोध करने वाने नेता, पदाधिकारी का नाम, उसका पद और मोबाइन रंबर भी देना होगा। सारी जानकारी गोपनीय लिफाफे में देनी होगी। साथ ही घोषित प्रत्याशी से एक लिखित पत्र भी भेजना होगा, ताकि यह स्पष्ट हो सके कि वास्तव में वह उसका विरोध कर रहा था।

About admin

Check Also

छेड़खानी का विरोध करने पर भाई-बहन पर चाकू से हमला

बलिया। पकड़ी थाना क्षेत्र के गौरनिया गांव में गुरुवार को बहन के साथ छेड़खानी का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *