Home / न्यूज़ बुलेटिन / परीक्षा की ‘शुचिता’ तार-तार देख डीएम हुए तल्ख… बोले जिम्मेदार जायेंगे जेल

परीक्षा की ‘शुचिता’ तार-तार देख डीएम हुए तल्ख… बोले जिम्मेदार जायेंगे जेल

बलिया। जिलाधिकारी गोविन्द राजू एनएस ने शनिवार को बोर्ड परीक्षा की दोनों पालियों में स्कूलों पर भ्रमण कर परीक्षा की शुचिता को जांचा। केंद्र व्यवस्थापकों को स्पष्ट निर्देश देते रहे कि परीक्षा की शुचिता भंग हुई तो जेल जाने की भी तैयारी रखें। कहा, इस बार हरहाल में नकलविहीन परीक्षा कराना है। इसमें सभी का सहयोग भी अपेक्षित है। कई सेंटर पर कक्ष निरीक्षकों की आईडी नही होने पर भी नाराजगी जताई। कहा परिसर में अनाधिकृत व्यक्ति या मोबाइल मिला तो कार्रवाई होगी।

हाईस्कूल की परीक्षा के दौरान जिलाधिकारी नगरा क्षेत्र में निकले। ललिता देवी इंटर कालेज असनवार व महंत विश्वनाथ यति इंटर कालेज चोगड़ा पर गये। कक्षों में जाकर परीक्षा दे रहे छात्र-छात्राओं की गतिविधियों का जायजा लिया। कापियों के अलावा आवंटित छात्रों के सापेक्ष उपस्थिति का भी मिलान किया। वहां से जंगली बाबा इंटर कालेज गड़वार गये। वहां भी परिसर में एकाध कागज मिलने पर सचेत किया कि कोई भी नकल सामग्री मेन गेट से भीतर नही आना चाहिए। इंटर की परीक्षा के दौरान शहर के लक्ष्मी राज देवी व कुंवर सिंह इंटर कालेज में गये। इन दोनों स्कूलों में स्टॉफ के पास आईडी नही होने पर जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देशित किया। इसके बाद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवकली पर गये वहां अव्यवस्थाएं मिली। जिलाधिकारी जब उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवकली पर गये वहां अलग ही माहौल देखने को मिला। कक्ष में अपनी जगह से दूसरी जगह पर बैठे छात्र अपनी जगह पर जाते दिखे। यही नही, विद्यालय परिसर में ही नकल सामग्री मिलने लगी। विद्यालय में शौचालय के पीछे भी गाईड पड़ी हुई मिली। इस पर भड़के जिलाधिकारी ने कड़े शब्दों में प्रधानाचार्य सुनील कुमार पाण्डेय को फटकारा। चेतावनी दी कि अब ऐसा देखने को मिला तो कड़ी कार्रवाई होगी।

About admin

Check Also

25 साल के बेटे का बाप बना दूल्हा, फिर…

रसड़ा, बलिया। मंदिर में दूसरी शादी रचाने पहुंचे पति की शिकायत जैसे ही पहली पत्नी …