Breaking News
Home / अपराध / एटीएस ने पकड़ें नौ आतंकवादी

एटीएस ने पकड़ें नौ आतंकवादी

लखनऊ। भोपाल में ट्रेन ब्लास्ट के साथ अन्य मामलों की पड़ताल में लगी उत्तर प्रदेश एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड (एटीएस) ने बिजनौर की एक मस्जिद के मुफ्ती व कारी को हिरासत में लिया है। अब तक कुल नौ लोग पकड़े गए हैं, जिनसे पूछताछ की जा रही है। लखनऊ में एनकाउंटर के बाद एटीएस लंबे समय से मामले की पड़ताल कर रही है। सूचना थी कि आतंकवादी घटनाएं करने के लिए गिरोह तैयार हो रहा है, जिसके कुछ अति-सक्रिय सदस्य अब नए सदस्य बनाने का प्रयास कर रहे हैं। गौरतलब है कि एटीएस ने अपनी छापेमारी बुधवार देर रात को शुरू की थी, जो गुरुवार की सुबह तक चलती रही। आतंकी साजिश के मामले में आज बिजनौर के बढ़ापुर मस्जिद से एटीएस और एसटीएफ ने छापे मारकर दो लोगों को पकड़ा है। इनमें कोतवाली देहात के गांव अकबराबाद निवासी मोहम्मद फैजान इमाम है और नगीना के गांव तुकमापुर निवासी मोहम्मद तनवीर मुअज्जम है। तड़के इन लोगों को पकड़ा गया है। बिजनौर के एएसपी देहात धर्मवीर सिंह ने बताया कि आपरेशन में लोकल पुलिस शामिल नहीं है। यूपी एटीएस समेत 6 राज्यों की पुलिस ने साथ मिलकर देश के कई हिस्सों में आतंकवादी गतिविधियों के खिलाफ आॅपरेशन चलाया। इस दौरान मुंबई, जालंधर, नरकटियागंज (बिहार), बिजनौर और मुजफ्फरनगर में आॅपरेशन किए गए। इस पूरे मामले पर यूपी के एडीजी (लॉ एंड आॅर्डर) दलजीत सिंह चौधरी ने बताया कि पुलिस ने अलग-अलग जगहों से नौ लोगों को पकड़ा है। इन लोगों से पूछताछ की जा रही है। गिरफ्तारियां मुंबई, जालंधर और बिजनौर से हुई हैं। छह व्यक्तियों से पूछ-ताछ जारी है, सबूतों के आधार पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। यह सूचना थी कि आतंकवादी घटनाएं करने के लिए एक गिरोह तैयार हो रहा है, जिसके कुछ अति-सक्रिय सदस्य नए सदस्य बनाने का प्रयास कर रहे हैं। चौधरी ने बताया कि इस मामले में चार लोगों के खिलाफ हमारे पास सबूत हैं। सभी लोग खुद से इस तरह के काम से जुड़े थे। कोई भी किसी अन्य ग्रुप के सम्पर्क में नहीं था। ये लोग युवाओं को भ्रमित कर रहे थे। पुलिस को खुफिया सूत्रों से जानकारी मिली थी कि आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए कुछ ग्रुप सक्रिय हैं। साथ ही ये लोग नए सदस्य भी बना रहे हैं। इसके बाद यूपी एटीएस ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल, सीआई सेल आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र एटीएस, पंजाब पुलिस, बिहार पुलिस के साथ मिलकर यह आॅपरेशन चलाया। पुलिस का कहना है कि सबूतों के आधार पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। पुलिस ने अभी गिरफ्तार व्यक्तियों के बारे में ज्यादा जानकारी देने से मना कर दिया है। पुलिस का कहना है कि अभी काफी जल्दी है, कुछ देर बाद पुलिस मामले पर ज्यादा जानकारी साझा करेगी। यूपी में आईएसआईएस खोरासान मॉड्यूल के सामने आने के बाद एजेंसियों को वेस्ट यूपी के कुछ इलाकों में अन्य मॉड्यूल के सक्रिय होने की खबर मिली थी। इसके बाद यूपी समेत कई राज्यों की एजेंसियों को अलर्ट किया गया था। पिछले दिनों हापुड़ और लखीमपुर खीरी में ‘लो इंटेसिटी ब्लास्ट’ होने और ट्रेनों के पटरी से उतरने की घटनाओं के बाद यूपी एटीएस ने इलाके में अपनी सक्रियता बढ़ा दी थी।

 

About admin

Check Also

किशोरी की ट्रेन से कट कर मौत

जिगना (मिर्जापुर)। संदिग्ध परिस्थितियों में टेªन से कट कर एक किशोरी की मौत हो गयी। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *