Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / पुलिस अधिकारियों को हथियार चलाने का पुनः दिया जाएगा प्रशिक्षण- डीआईजी

पुलिस अधिकारियों को हथियार चलाने का पुनः दिया जाएगा प्रशिक्षण- डीआईजी

मऊ। उत्तर प्रदेश में मऊ के पुलिस लाइन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए डीआईजी आजमगढ़ परिक्षेत्र उदय शंकर जायसवाल ने बताया कि पुलिस के तमाम बड़े अधिकारी फायरिंग के कासन भूल चुके हैं। पुलिस लाइन निरीक्षण के दौरान उन्होंने आजमगढ़ परीक्षेत्र में मऊ पुलिस लाइन को नंबर एक का दर्जा देते हुए यहां मेस में बन रहे भोजन की गुणवत्ता व बैरकों की साफ-सफाई पर प्रसन्नता व्यक्त की इसके एवज में उन्होंने मेस इंचार्ज को पुरस्कृत भी किया। गौरतलब हो कि शुक्रवार की सुबह निरीक्षण के दौरान मऊ पुलिस लाइन में डीआईजी ने अधिकारियों से अपने सामने कुछ हथियारों के फायरिंग करवाए। जिसमें उन्होंने एक पुलिस अधिकारी से आंसू गैस के गोले फायरिंग करने को कहा तो उन्होंने गलती से पैलेट गन चला दिया, इसी प्रकार कई अधिकारी असलहे चलाने का कासन भी पूरा नहीं कर पाए। इन परिस्थितियों को देखकर डीआईजी ने तत्काल आदेश जारी किया की आगामी मंगलवार और शुक्रवार को जिले के सभी बड़े अधिकारियों व क्राइम ब्रांचअधिकारियों को हथियार चलाने का प्रशिक्षण दिया जाए जो उसके बाद में अगले 10 मंगलवार और शुक्रवार को जनपद के सभी दरोगाओं को पुलिस लाइन में बुलाकर हथियार चलाने का प्रशिक्षण देंगे। जनपद के पुलिस स्टेशन और पुलिस लाइन के वार्षिक निरीक्षण के दौरान डीआईजी उदय शंकर जायसवाल ने तमाम खामियां पाई हालांकि इस निरीक्षण के दौरान किसी को भी कोई सजा तो नहीं लेकिन कड़ी चेतावनी दी गई मसलन पुलिस अधिकारियों को पुनः असलहा ट्रेनिंग, सहित कमियों को इंगित कराया गया। इसके साथ ही  पुलिस स्टेशन व कार्यालयों में जल रहे पीले बल्ब को देख कर उन्होंने तत्काल पीले बल्बों के स्थान पर LED बल्ब जलाने का निर्देश दिया। अगले कुछ दिनों बाद पुलिस विभाग द्वारा जनपद में चलाए जाने वाले वाहन चेकिंग अभियान के पूर्व उन्होंने कप्तान व सभी क्षेत्र अधिकारियों को अस्पष्ट निर्देश दिया कि वाहन चेकिंग चलाने से पूर्व पुलिस कर्मियों के वाहन नियम पूर्ण हो जाने चाहिए पुलिस लाइन के बैरकों के पास व थानों में पुलिसकर्मियों के वाहन के नंबर प्लेट पर नंबर की जगह अलग-अलग स्लोगन लिखे होने पर उन्होंने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए चेतावनी दी कि सबसे पहले पुलिसकर्मी यातायात नियमों का पालन करना सीखें उसके बाद ही कोई अभियान चलाया जाएगा लगे लगाए उन्होंने पत्रकारों से भी आवान किया सभी पत्रकारो से हेलमेट का प्रयोग करें इसके निमित्त उन्होंने पुलिस अधीक्षक को शिविर लगाकर वाहनों पर नंबर लिखवाने व हेलमेट वितरण का आह्वान किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक मुनिराज जी. क्षेत्राधिकारी सहित सभी पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

About admin

Check Also

बालिका कबड्डी चैम्पियनशिप में खिलाड़ियों ने दिखाया दम

बलिया। जिला खेल कार्यालय बलिया द्वारा वीर लोरिक स्पोर्ट्स स्टेडियम में चल रहे अंतर मंडलीय …