Breaking News
Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / किसानों को गेहूँ क्रय केंद्र पर उपलब्ध कराएँ पानी, दरी, लोटा, बाल्टी

किसानों को गेहूँ क्रय केंद्र पर उपलब्ध कराएँ पानी, दरी, लोटा, बाल्टी

भदोही। जिलाधिकारी सुरेश कुमार सिंह ने शुक्रवार को गोपीगंज मंण्डी परिसर में चल रहे गेहॅू तौल क्रय केन्द्र का आकास्मिक निरीक्षण किया। मण्डी समिति के केन्द्र पर कुल 639 कुन्तल गेहूं की खरीद 17 किसान कास्तकारों से गेहूं की खरीद की जा चुकी है। केन्द्र का लक्ष्य 11 हजार कुन्तल है। केन्द्र पर 35 लाख की धनराशि के सापेक्ष 8 लाख 81 हजार 265 का भुगतान किसानो को कर दिया गया है। जिलाधिकारी ने मण्डी समिति के एएमओ जगदीश को कड़ी हिदायत के साथ निर्देश दिया कि किसानो/कास्तकारो से सम्पर्क कर अधिक से अधिक गेहॅू की खरीदारी करें, जिससे लक्ष्य को शत्-प्रतिशत पूर्ण किया जा सके। तत्पश्चात् जिलाधिकारी ने विपणन शाखा द्वारा स्थापित गेहॅू क्रय केन्द्र जंगीगंज का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान किसान जगरनाथ मौर्य निवासी नौवधन डीघ का तौल हो रहे गेहॅ का वजन केन्द्र के कम्प्यूटराईज काटा से कराया, और काटे को लोहे के 10 किलो वाट से वजन कराया जो सही मिला उपस्थित किसान ने बताया कि गेहॅू की तौल बेहतर ढ़ग से किया जा रहा है। हम किसान भाईयों को कोई समस्या नही है। केन्द्र पर बेचने से हम किसानो को अच्छे दाम पर गेहॅू का मुल्य सही समय पर मिल जा रहा है। केन्द्र प्रभारी द्वारा अच्छे व्यवहार से हम किसानो की गेहूं की खरीदारी की जा रही है। हम लोगो को कोई समस्या नही है। जिलाधिकारी ने बताया कि केन्द्र का लक्ष्य 11 हजार कुन्तल है। खरीदारी 641 कुन्तल की खरीद अब-तक की गयी है। 30 लाख की धनराशि आवंटित की गयी है। पीसीएफ केन्द्र प्रभारी को कड़ा निर्देश दिया कि लक्ष्य के सापेक्ष गेहॅू की खरीदारी किसानो/कास्तकारो से सम्पर्क कर कराये। इस कार्य में लापरवाही/शिथिलता/उदाशिनता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही की जायेगी। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि विपणन, पीसीएफ, भारतीय खाद्य निगम, के अधिकारियों को निर्देश दिया कि अपने-अपने केन्द्रो पर पर्याप्त संख्या में बोरे, इलेक्ट्रानिक काटा बाट, किसानो की सुविधा को देखते हुए पानी, दरी, लोटा, बाल्टी की व्यवस्था, गेहॅू की सुरक्षा के लिए पर्याप्त व्यवस्था, केन्द्रो पर बैनर लगे हो, गेहॅू की सफाई के लिए विनोईग फैन, दो जाली, का  छलना एवं नमी मापक यंत्र व्यवस्थित करायी जाय, इस क्रम में जिलाधिकारी ने समस्त क्रय केन्द्र से सम्बन्धित अधिकारियों एवं केन्द्रो पर तैनात कर्मिको को कड़ी हिदायत देते हुए कहा कि वे प्रत्येक दशा में शासन के मंशा के अनुरूप गेहॅू क्रय कराने में अपनी-अपनी अहम भूमिका निभाये। अन्यथा दोषी पाये जाने वाले अधिकारियो/कर्मचारियों की कार्यशैली को गम्भीरता से लेते हुए कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि किसानों के गेहॅू क्रय में बिचौलीयों की भूमिका निभाये वाले तत्वों को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही किया जायेगा। यह भी कहे कि वास्तविक जो किसान है, उनसे ही सीधे गेहॅू क्रय किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि क्रय केन्द्रो पर घटतौली के शिकायते पायी गयी तो सीधे, केन्द्रो पर तैनात अधिकारियो/कर्मचारियों को दण्डित किया जायेगा। जिलाधिकारी ने यह भी बताया है कि जनपद में गेहॅू का उत्पादन 1,39,991, एमटी है। किसान ई-उपार्जन व्यवस्था के अन्तर्गत किसानो का पंजीयन आनलाईन होगा। किसानों द्वारा रजिस्टेªशन/पहचान पत्र (आधार कार्ड/वोटर कार्ड) बैंक पासबुक, खतौनी, किसान बही, के आधार पर किसानो के गेहॅू क्रय का भुगतान आरटीजीएस के माध्यम से तत्काल खाते में भेजा जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के समस्त क्रय केन्द्र रविवार तथा राजपत्रित अवकाश के दिवस के छोड़कर प्रातः 9बजें से सायः 6बजें तक खुले रहेगे। जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी गेहॅू क्रय केन्द्र व्यवस्थापको को निर्देश दिया कि किसानो को पूरे सम्मान के साथ बैठाये, साथ ही उनके साथ अच्छा व्यवहार करे। साथ ही किसानो की उतराई छनाई का व्यय 10 रूपये प्रति कुन्तल की दर से देय होगा। जिसका भुगतान आरटीजीएस एकाउण्ट पेयी चेक के माध्यम किसान के खाते में किया जायेगा।

 

About admin

Check Also

मिर्जापुर: करंट की चपेट में आने से छात्र की मौत

मिर्जापुर। जिले के अहरौरा थाना क्षेत्र के पट्टीकला गांव स्थित प्राइमरी स्कूल के एक छात्र …