Home / बनारस / …जब योगी के मंत्री ने लगाया अस्पताल में पोछा

…जब योगी के मंत्री ने लगाया अस्पताल में पोछा

वाराणसी। योगी सरकार के कानून एवं खेल राज्यमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने शनिवार को मण्डलीय अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। मंत्री के निरीक्षण में अस्पताल में फैली अनियमियता और भ्रस्टाचार की पोल खुल गई। मंत्री ने गन्दगी को देख कर खुद ही हाथ में पोछा उठा लिया और सफाई करने लगे। इसके बाद मंत्री ने सीएमओ और सीएमएस को जमकर फटकार लगाई और तत्काल जिलाधिकारी को फोन कर अस्पताल की बदहाली को जल्द से जल्द दुरुस्त करने का निर्देश जारी किया। मंडलीय अस्पताल में सुबह 10 बजे जब राज्यमंत्री निरीक्षण के लिए पहुंचे तो अधिकारियों में हड़कंप मच गया। मंत्री ने अस्पताल के ओपीडी वार्ड, इमरजेंसी वार्ड आॅपरेशन थियेटर से लगायत रैन बसेरा, बर्न वार्ड सभी का निरीक्षण किया। मंत्री जैसे ही कार्डियोलोजी विभाग में पहुंचे तो डॉक्टर की सीट के पास पड़ी धूल को देख कर भड़क गए और उन्होंने खुद ही पोछा उठा लिया और सफाई में जुट गए। ये नजारा देख कर अधिकारी मंत्री से पोछा छीनने लगे। मंत्री ने मीडिया से बातचीत में कहा कि इस अस्पताल की हालत बद से बदतर है। इसमें एक सप्ताह में सुधार करने का निर्देश दिया गया है।अस्पताल के सभी स्थानों का निरीक्षण के दौरान मंत्री को हर स्थान पर गन्दगी और अव्यवस्था का अंबार देखने को मिला। मंत्री ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए सुधार करने का निर्देश दिया। मंत्री जब बर्न एंड सेफ्टिक वार्ड में पहुंचे तो वहां का हाल देख कर दंग रह गए। मंत्री ने देखा कि जला हुआ मरीज बिना बेडसीट के ही बेड पर लेटा पड़ा है। अस्पताल में निरीक्षण के दौरान मंत्री से करीब एक दर्जन से ज्यादा मरीजों ने अस्पताल में इलाज के नाम पर डॉक्टरों के पैसा मांगने की शिकायत की। मरीजों ने कहा कि यहां हर चीज के लिए पैसा देना पड़ता है। अस्पताल में ज्यादातर दवाइया कई महीनों से स्टॉक में नहीं हैं, इस बात को अधिकारियों ने भी माना। हालात ये है पिछले तीन महीने से टीटबैक का इंजेक्शन भी अस्पताल में नहीं है। मंत्री ने मरीजों की व्यथा सुनने के बाद सीएमएस सहित अन्य अधिकारियों की क्लास लेते हुए व्यवस्था दुरुस्त करने का आदेश दिया। उधर, मंत्री का आदेश मिलने के बाद जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र मंडलीय अस्पताल पहुंचे और वहां का निरीक्षण किया। वे मंत्री के जाने के बाद अस्पताल पहुंचे थे। डीएम को भी निरीक्षण में वही खामियां मिलीं, जिस ओर मंत्री ने फोन कर उन्हें बताया था। इस पर उन्होंने अस्पताल प्रशासन को लताड़ लगाते हुए जल्द से जल्द व्यवस्था में सुधार का निर्देश दिया। उन्होंने लाश घर में आए रेफ्रिजरेटर बाक्स को लगाने का निर्देश दिया।

About admin

Check Also

चार दिन पूर्व बैगन की खेत में मिला था शव, आशनाई में गई युवक की जान

मिर्जापुर। अहरौरा थाना क्षेत्र के मानिकपुर गांव के बैगन की खेत में मिले मृत युवक …