Home / अपराध / पत्नी के न रहने पर पिता ने पुत्री को हीं बना डाला हवस का शिकार

पत्नी के न रहने पर पिता ने पुत्री को हीं बना डाला हवस का शिकार

जौनपुर/सरपतहा! कलिकाल के प्रचण्ड प्रभाव से जहाँ एक ओर सामाजिक मान्यतायें विकृत हो रही है वहीं दूसरी ओर पारिवारिक मर्यादायें भी छिन्न-भिन्न हो रही है। वर्तमान परिवेश मानस की उक्त पंक्तियाँ कलयुग के चरम को हीं प्रकट कर रही हैं। घटना सरपतहां थाना क्षेत्र के एक गांव की है जहां पति के वासना की पूर्ति में दरिंदगी की हद को पार कर जाने पर विवाहिता अपने पति को छोड़कर मायके चली गयी। पत्नी के मायके चले जाने पर कलयुगी पिता ने घर में रह रही। अपनी 14 वर्षीया नाबालिग लड़की के साथ कुकृत्य करने का प्रयास करने लगा और पुत्री के विरोध करने पर उसे जान से मारने की धमकी देते हुए अपनी हवस का शिकार बना डाला। कई दिनों तक पत्नी की गैर मौजूदगी में भय दिखाकर पुत्री के साथ अपनी वासना की पूर्ति कर बाप-बेटी के रिश्ते को कलंकित करता रहा। मानवता शर्मसार होती रही। मायके से वापस लौटने के बाद पुत्री ने माँ से अपनी आपबीती सुनाई तो माँ के पैरों तले जमीन खिसक गयी। पुत्री को साथ लेकर वह थाने आयी और पति के कुकृत्य के सम्बन्ध में थाने पर लिखित तहरीर दी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376, 506 व पाक्सो एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत करते हुए पीड़िता किशोरी को मेडिकल परीक्षण हेतु भेज दिया।

 

 

About admin

Check Also

बलिया में गंगा का सीना चीर रहे खनन माफिया

बलिया। हम उस देश के वासी है, जिस देश में गंगा बहती है। सच में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *