Home / ग़ाज़ीपुर / लोकसभा चुनाव 2019: समाजवादी टिकट के रेस में राधेमोहन‍ सिंह, विजय यादव व ओमप्रकाश सिंह के बीच दौड़

लोकसभा चुनाव 2019: समाजवादी टिकट के रेस में राधेमोहन‍ सिंह, विजय यादव व ओमप्रकाश सिंह के बीच दौड़

शिवकुमार

गाजीपुर। समाजवादी पार्टी अपने खोये हुए अस्तित्‍व को प्राप्‍त करने के लिए उसके कार्यकर्ता दिन-रात एड़ी से चोटी तक का जोर लगाये हुए है। सदस्‍यता अभियान के लिए युद्ध स्‍तर पर कार्य कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव में भले ही लगभग दो साल की देरी है लेकिन समाजवादी टिकट के लिए सपा के वरिष्‍ठ योद्धा मैदान में उतर गये हैं। सदस्‍यता अभियान के साथ-साथ शादी-विवाह, तेरही के निमंत्रण को 12 बजे रात तक निपटा रहे हैं। पूरे लोकसभा क्षेत्र में जनसंपर्क के माध्‍यम से अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। समाजवादी टिकट के दौड़ में प्रमुख रुप से पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह, एमएलसी विजय यादव, पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह शामिल हैं। पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह 2009 के चुनाव में गाजीपुर लोकसभा सीट से निर्वाचित हुए थे। 2014 के लोकसभा के चुनाव में उनका टिकट काटकर उनके जगह पर सपा सुप्रीमो ने शिवकन्‍या कुशवाहा को चुनाव लडा़या था। जो भाजपा के प्रत्‍याशी मनोज सिन्‍हा से पराजित हो गयी थीं। इस संदर्भ में राधेमोहन सिंह ने पूर्वांचल न्‍यूज डाट काम को बताया कि अभी तक जो मैने चुनाव लड़े हैं, चाहे वह जिला पंचायत सदस्‍य हो, अध्‍यक्ष हो या सांसदी का हो, किसी भी चुनाव में मैं पराजित नही हुआ हूं। वर्तमान समय में वह सदस्‍यता अभियान में लगे हुए हैं। इसके अलावा पूरे लोकसभा चुनाव में शादी-विवाह, तेरही आदि निमंत्रण में जाकर उनके सुख-दुख में शामिल हो रहे हैं। उन्‍होने कहा कि भाजपा को मैं ही पटखनी दे सकता हूं। टिकट के लिए अब अपने प्रतिद्वंदी एमएलसी विजय यादव व पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह के बारे में बताया कि वह लोग सपा-‍बसपा गठबंधन का इंतेजार कर रहे हैं। तभी मैदान में उतरेंगे। केवल सपा के टिकट पर चुनाव लड़ना दूसरे के बस की बात नही है। दोनों वरिष्‍ठ नेताओं के परफार्मेंस के बारे में जिले की जनता जानती है। समाजवादी टिकट के रेस में शामिल विजय यादव ने पूर्वांचल न्‍यूज डाट काम को बताया कि इस लोकसभा क्षेत्र में सबसे ज्‍यादा यादव मतदाता हैं इसलिए मैं सबसे योग्य उम्‍मीदवार हूं। मैं दो बार एमएलसी रहा। समाजवादी विचारधारा मेरे खून में दौड़ती है। वर्तमान समय में सदस्‍यता अभियान के लिए मैं युद्ध स्‍तर पर कार्य कर रहा हूं। इसके अलावा क्षेत्र में शादी-विवाह तथा अन्‍य मौकों पर जरुर उपस्थित रहता हूं। ईमानदारी में मैं ही मनोज सिन्‍हा का टक्‍कर दे सकता हूं। उन्‍होने बताया कि पूर्वांचल के गांधी स्‍व. रामकरन दादा ने एक बार राधेमोहन सिंह को सांसद बनाया था। इस बार के लोकसभा चुनाव में सभी लोग समर्थन करके हमको जिताये। पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह विधानसभा के चुनाव में हार के कारण आत्‍मचिंतन में लगे हुए हैं। अपनी खोई हुई राजनीतिक विरासत को वापस पाने के लिए आत्‍ममंथन कर रहे हैं। मिशन 2019 के सवाल पर पूर्व पर्यटन मंत्री के प्रतिनिधि मन्‍नू सिंह ने बताया कि वह सदस्‍यता अभियान व क्षेत्र में शादी-विवाह अन्‍य मौको पर जनता के दरवाजे पर जाकर उनके सुख-दुख में शमिल हो रहे हैं। 2019 में पार्टी के हाईकमान का जो आदेश होगा उसका पालन किया जायेगा।

About admin

Check Also

पुलिस को बदमाशों की चुनौती… एक सप्ताह में दूसरी लूट से सनसनी

रेवती, बलिया। थाना क्षेत्र के रेवती-बैरिया मार्ग पर कोलनाला रेलवे क्रासिंग व नौवाबारा के बीच …