Home / ग़ाज़ीपुर / अफजाल अंसारी गाजीपुर के अखाड़े से लड़ेगे लोकसभा का दंगल?

अफजाल अंसारी गाजीपुर के अखाड़े से लड़ेगे लोकसभा का दंगल?

गाजीपुर। बसपा के वरिष्‍ठ नेता व पूर्व सांसद अफजाल अंसारी का जिले के मुख्‍यालय पर पत्रकार वार्ता का राजनैतिक गलियारों में चर्चा का विषय बना हुआ है। राजनैतिक पंडित अपने-अपने चश्‍में से इस पत्रकार वार्ता का विश्‍लेषण कर रहे हैं। राजनैतिक गलियारों में चर्चा हो रही है कि गाजीपुर अखाड़े से लोकसभा का दंगल लड़ेंगे अफजाल अंसारी। समाजवादी खेमें में इस बात की चर्चा जोरो पर है। क्‍योंकि अफजाल अंसारी के लड़ने से मुस्लिम मतदाताओं का झुकाव बसपा के तरफ होगा। जिसका सीधा नुकसान सपा व कांग्रेस को होगा। पत्रकार वार्ता में अफजाल अंसारी ने संकेत दिया था कि उनके रास्‍ते रोड़े नसीमुद्दीन सिद्दीकी अब पार्टी से बाहर हो गये है। बसपा में जमीनी कार्यकर्ताओं को अच्‍छा अवसर मिलेंगा। राजनैतिक सूत्रों के अनुसार बसपा सुप्रीमो मायावती नसीमुद्दीन के षडयंत्र पर अंसारी बंधुओ को पार्टी से बाहर निकाल दिया था। अब नसीमुद्दीन सिद्दीकी पार्टी से बाहर हो गये है। बसपा सुप्रीमो मायावती मुस्लिमों में अपनी पकड़ और मजबूत बनाने के लिए अंसारी बंधुओं को और अहमियत देकर उनका कद बढायेंगी। गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र में दलित और मुस्लिम मतदाता मिलकर एक अच्‍छा रणनीति बना सकते है। अफजाल अंसारी पांच बार विधायक और एक बार सांसद रह चुके है। उन्‍होने 2004 के लोकसभा चुनाव में दो लाख 26 हजार मतों से अपने प्रतिद्वंदी भाजपा प्रत्‍याशी मनोज सिन्‍हा को पराजित किया था। 2009 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने उनका टिकट काट दिया। अफजाल अंसारी बसपा के टिकट से चुनाव लडें। लेकिन सपा प्रतयाशी राधेमोहन सिंह ने उन्‍हे 70 हजार मतों से पराजित कर दिया। 2014 के लोकसभा चुनाव में बलिया लोकसभा क्षेत्र कौमी एकता दल के टिकट पर चुनाव लडें और मोदी लहर में तीसरे स्‍थान पर रहें। अफजाल अंसारी गाजीपुर से लड़ेंगे या बलिया से यह आने वाला समय बतायेगा। लेकिन उनकी प्रेस वार्ता ने जिले राजनीति में हलचल मचा दी है।

About admin

Check Also

माफियाओं के खिलाफ कठोर कार्रवाई करें पुलिस- नंदी

मऊ। गोपाल गुप्ता नन्दी मंत्री स्टाम्प तथा न्यायालय शुल्क पंजीयन एवं नागरीक उद्ययन विभाग उ0प्र0 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *