Home / अपराध / जौनपुर का चर्चित बेलाव दोहरे हत्याकांड का चश्मदीद गवाह पलटा, बोला नहीं देख पाया गोली चलाने वाले बदमाशों को

जौनपुर का चर्चित बेलाव दोहरे हत्याकांड का चश्मदीद गवाह पलटा, बोला नहीं देख पाया गोली चलाने वाले बदमाशों को

जौनपुर! केराकत के बेलांव दोहरा हत्याकांड में गुरुवार को एक नया मोड़ आ गया जब अहम चश्मदीद साक्षी वीरेंद्र प्रताप पूर्व में पुलिस को दिए बयान से अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम एम पी सिंह की कोर्ट में मुकर गया। उसने कहा कि वह घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचा एवं गोली मारने वालों को पहचान नहीं पाया न ही उनका नाम जानता है यहां तक की पूर्व सांसद धनंजय व आशुतोष के संबंध में भी पुलिस को दिये बयान से मुकर गया। कोर्ट ने अगले चश्मदीद साक्षी को 16 जून को तलब किया है। 1 अप्रैल 2010 को 5:15 बजे सुबह बेलाव घाट पर टोल टैक्स विवाद को लेकर वादी राजेंद्र के पुत्र संजय निषाद और नंदलाल निषाद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी ।पुलिस विवेचना में प्रकाश में आया कि पूर्व सांसद धनंजय व आशुतोष के उकसाने पर पुनीत सिंह व सुनीत सिंह ने गोली मारकर हत्या की ।मामले का विचारण चल रहा है। एडीजीसी विजय शंकर यादव द्वारा गुरुवार को आए चश्मदीद साक्षी से जिरह की गई। उन्होंने बताया कि गवाह ने पूर्व में पुलिस को बयान दिया था कि उसने गोली मारने वाले बदमाशों को पहचाना है साथ ही पूर्व सांसद धनंजय व आशुतोष के संबंध में भी बयान दिया था लेकिन कोर्ट में अपने पूर्व बयान से वह मुकर गया।

About admin

Check Also

बलिया में गंगा का सीना चीर रहे खनन माफिया

बलिया। हम उस देश के वासी है, जिस देश में गंगा बहती है। सच में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *