Home / इलाहाबाद / नौनिहालों को बिना पुस्तक के जाना पड़ेगा स्कूल, अगस्त में होगी किताबों की सप्लाई

नौनिहालों को बिना पुस्तक के जाना पड़ेगा स्कूल, अगस्त में होगी किताबों की सप्लाई

इलाहाबाद। बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों, अशासकीय सहायता प्राप्त व अन्य स्कूलों में भले ही जुलाई में किताबें मुहैया कराने का डंका पीटा जा रहा हो, लेकिन हकीकत यह है कि अगस्त माह तक स्कूलों में किताबों की आपूर्ति हो सकेगी। शिक्षा निदेशक बेसिक डा. सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह ने किताबों की आपूर्ति और वितरण के संबंध में बुधवार को निर्देश जारी किये हैं।बेसिक शिक्षा परिषद सचिव संजय सिन्हा यूनीफार्म व किताब आदि के संबंध में पहले ही जवाबदेही तय कर चुके हैं, अब शिक्षा निदेशक ने आपूर्ति और वितरण का पूरा कार्यक्रम जारी कर दिया है। इसमें बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश है कि वह हर हाल में किताबों की खरीद का आदेश तीन जून तक जारी कर दें। आवंटित कार्य के सापेक्ष जिलों में पाठ्य पुस्तकों की आपूर्ति अनुबंध की तारीख से तीन माह के अंदर होगी। यही नहीं सभी वर्गों की किताबों के आपूर्ति की अंतिम तारीख 29 अगस्त तय की गई है। इस आदेश में आपूर्ति से लेकर वितरण तक में किसको कहां पर और क्या करना है स्पष्ट कर दिया गया है। हर जिले में पुस्तकों के वितरण का कार्य जिलाधिकारी की अध्यक्षता में होगा और मुख्य विकास अधिकारी आदि तीन अफसर सदस्य होंगे, जबकि बीएसए सदस्य सचिव के रूप में कार्य करेंगे।  प्रदेश भर के उच्च प्राथमिक स्कूलों में विज्ञान व गणित विषय के सहायक अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया फिर शुरू करने की मांग तेज हो गई है। अभ्यर्थियों ने शिक्षा निदेशालय में बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय के बाहर प्रदर्शन बुधवार को भी धरना प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि पूर्व की काउंसिलिंग में सम्मिलित अभ्यर्थियों से खाली पदों को भरने के लिए 17 मार्च को आदेश जारी हुए थे, लेकिन 23 मार्च को भर्तियों पर रोक लगा दी गई। उसे अब बहाल किया जाए। अभ्यर्थी यहां कई दिनों से धरना दे रहे हैं उनका कहना है कि अनसुनी होने पर वह आमरण अनशन करेंगे। यहां दिलीप राठौर, राहुल मिश्रा, दीपक, राजेंद्र प्रसाद, कुलदीप, दुर्गेश कुमार सिंह और सुभाष चंद्र शामिल थे। उप्र उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने हाईकोर्ट के निर्देश के बाद असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के विषयों के प्रश्नों का जवाब बदला है। इसमें असिस्टेंट प्रोफेसर बीएड, गृह विज्ञान, शस्य विज्ञान व पादप रोग के बुकलेट में सीरीज ए की प्रश्न संख्या तीन, सीरीज बी की प्रश्न संख्या 23, सीरीज सी की प्रश्न संख्या 17 और सीरीज डी के प्रश्न संख्या आठ का पुनर्मूल्यांकन किया गया है। इसी तरह असिस्टेंट प्रोफेसर भूगोल, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, शारीरिक शिक्षा विषय की बुकलेट सीरीज ए के प्रश्न संख्या 15, सीरीज बी के प्रश्न संख्या चार, सीरीज सी के प्रश्न संख्या 28 और सीरीज डी के प्रश्न संख्या 22 का उत्तर विकल्प सी के स्थान पर डी सही मानते हुए ओएमआर शीट का दोबारा मूल्यांकन हुआ है। इन विषयों के नये अभ्यर्थियों का साक्षात्कार कार्यक्रम आयोग के पोर्टल पर उपलब्ध है। अभ्यर्थी उसे देख सकते हैं।

हल्दीघाटी नामक नया पाठ जोडऩे की तैयारी है। जून के ही अंत में ही पाठ्यचर्या समिति की बैठक बुलाकर इस पर मुहर लगेगी और नया पाठ 2018 के पाठ्यक्रम में शामिल होगा।

 

About admin

Check Also

आरएसओं के न रहने पर मंडलायुक्तव नाराज

मिर्जापुर। आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल मुरली मनोहर लाल ने मंगलवार को निर्माणाधीन स्टेडियम व महिला पालीटेक्निक …