Breaking News
Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / जब गाय माता है तो भैंस खाला है- आजम खां

जब गाय माता है तो भैंस खाला है- आजम खां

लखनऊ/रामपुर। पूर्व मंत्री और सपा विधायक आजम खां ने कहा कि सरकार गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करें। इसकी देखरेख के लिए हर गांव में गोशाला बनाई जाए। इसके लिए अलग से बजट की व्यवस्था हो। भैंस काटने पर भी रोक लगानी चाहिए। शनिवार को जौहर यूनिवर्सिटी में ब्लड बैंक के उद्घाटन अवसर पर आजम खां ने यह बात कही।  आजम खान ने आगे कहा- भैंस तो सबसे ज्यादा दूध देती है। रिश्ते में भी जब गाय माता है तो भैंस खाला है। उसका कुसूर सिर्फ इतना है कि उसका रंग काला है, क्या इस बिनाह पर उसे काटा जाना चाहिए।  मुर्गा और बकरा समेत किसी भी पशु या पक्षी के वध पर पूरी तरह से पाबंदी होनी चाहिए।  रामपुर गंगा-जमुनी तहजीब का मरकज रहा है। जिन्हें नफरतों में यकीन है, वह कॉलेज के कैंपस में आएं। उन्हें यहां बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। इससे पहले आजम खान ने कहा था कि, भारतीय गायों को एयरलिफ्ट के जरिए कतर भेजा जा रहा है। अगर सरकार को गायों को कटवाना ही था तो कतर भेजने की क्या जरूरत थी। भारतीय कसाइयों को ही दे देते।  कान को घुमा कर पकड़ने की क्या ज़रूरत थी। सीधा ही पकड़ लेते। अब कहां हैं वो गो रक्षक और गौ माता के भक्त जो गरीब को पालने के लिए गाय ले जाने पर उसे जान से मार देते हैं। आजम ने यह बात कतर के कारोबारी मोताज अल खैय्यात द्वारा 4,000 गाय एयरलिफ्ट कराने की खबर के बाद कही है। बता दें, कारोबारी मोताज ने यह फैसला कतर में दूध की कोई कमी न हो इसके लिए लिया है।

 

About admin

Check Also

चंदौली: घर में खाना बना रही दलित किशोरी संग दुष्कर्म

सकलडीहा/धानापुर। सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे घर …