Breaking News
Home / चंदौली / आत्महत्या कर रहे सरकार की नीतियों से परेशान किसान

आत्महत्या कर रहे सरकार की नीतियों से परेशान किसान

चंदौली। किसानों के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ सोमवार मुख्यालय स्थित धरनास्थल पर राष्ट्रीय लोकदल ने धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान केन्द्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही केन्द्र व प्रदेश सरकार को किसान विरोधी बताया। कहा कि इस सरकार में किसानों का हित होने वाला नहीं है। ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए आंदोलन का रुख अख्तियार कना होगा। अंत में राज्यपाल के नाम संबोधित 13 सूत्रीय ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा।

वक्ताओं ने कहा कि किसानों को केन्द्र व प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के कारण दर-दर की ठोंकरे खानी पड़ रही है। इसके अलावा सरकार के दमनकारी नीतियों के कारण किसान आत्महत्या कर रहे हैं। दूसरी ओर अपना हक मांगने वाले किसानों पर सरकार गोलियां व लाठियां चलवा रही है, जो दुखद है। सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए उनकी आवाज को दबाने का काम कर रही है। जिलाध्यक्ष समरनाथ यादव ने कहा कि जनपद के किसानों को खाद, बीज, दवा नहीं मिल पा रही है। इसके चलते किसान परेशान है। शासन व प्रशासन के लोग सिर्फ ढिंढोरा पीट रहे हैं कि किसानों को सुविधाएं समय से मिल रही है, लेकिन वास्तविकता कुछ और ही है। कहा कि किसानों, बेरोजगारों के साथ-साथ गरीबों को भी तमाम तरह की परेशानियां हो रही है, लेकिन इसे दूर करने में केन्द्र व प्रदेश सरकार दोनों नाकाम है। निजी शिक्षण संस्थानों में जहां मनमानी फीस ली जा रही है, वहीं जनपद के विभिन्न मार्गों पर रोडवेज बसों का संचालन नहीं होने से लोग परेशान है। इस अवसर पर डा. हरिद्वार यादव, चन्द्रवंश सिंह, अमित गिरि, प्रभुनारायण विश्वकर्मा, अनुपम उपाध्याय, अनवार अंसारी, सुल्तान खान, छन्नू विश्वकर्मा, ज्ञान प्रकाश मिश्रा, विमला देवी, अरुण कुमार यादव, बृजेश यादव, रामचन्द्र यादव आदि उपस्थित रहे। संचालन भागवत नारायण चौरसिया ने किया।

About admin

Check Also

चंदौली: घर में खाना बना रही दलित किशोरी संग दुष्कर्म

सकलडीहा/धानापुर। सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे घर …