Home / अपराध / फिल्मी मैगजीन के फोटो जर्नलिस्ट राजू उपाध्याय की सड़क हादसे में मौत

फिल्मी मैगजीन के फोटो जर्नलिस्ट राजू उपाध्याय की सड़क हादसे में मौत

भदोही। ज़िले में गुरुवार को मुम्बई यानी मायानगरी की चर्चित फिल्मी मैगजीन मायापुरी और दूसरी फिल्मी,  पालटिक्स पत्रिकाओं, अखबारों और नामचीन हस्तियों की फोटो सूट करने वाले फ्रीलांसर फोटो जर्नालिस्ट राजू उपाध्याय (48) की गुरुवार को एक सड़क हादसे में दर्दनाक मौत हो गई। हादसा ज़िले के राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित गोपीगंज के करीब हुआ। जहाँ ट्रक ने उनकी बाइक में टक्कर मार दिया और उनकी घटना स्थल पर ही  मौत हो गई। पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर चालक को गिरफ्तार किया है। घटना तब हुई जब उपाध्याय अपनी शिक्षक पत्नी के लिए सीतामढ़ी से दावा लाने के लिए सुबह 10 बजे बाइक से गोपीगंज आ रहे थे। जिले के भदोही कोतवाली के मोढ बसपरा गाँव निवासी राजू उपाध्याय मुम्बई में रहते थे। मुम्बई में रहकर स्वतंत्र फोटो पत्रकारिता करते थे। उनकी वहाँ फोटो की शॉप भी है। मुम्बई की कई नामचीन फिल्मी और राजनीति हस्तियों का उन्होंने फोटो सूट किया था। पत्रकार दोस्तों के साथ अपनी उपलब्धियों को वह अक्सर बाँटने थे। कई भाईयो की वजह से घर पर किसी के न रहने पर वह कई सालों से पत्नी आशा (45) के साथ गाँव में रहते थे। उनकी पत्नी सीतामढ़ी स्थित दयावंती पुंज मॉडल स्कूल में इंग्लिश की शिक्षक हैं। राजू का गाँव से मुम्बई और सीतामढ़ी आना जाना लगा रहता था। पत्नी सीतामढ़ी में रहती हैं लिहाजा वे यहाँ रहते थे। आज़ दवा लाने खुद की कवासाकी बजाज बाइक से गोपीगंज के लिए निकले थे। राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित गोपीगंज थाना के राधास्वामी धाम के पास ट्रक की चपेट में आने से उनकी दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस ने  ट्रक को कब्जे में लेने के बाद भाग चालक को हिरासत में लिया है। ट्रक (UP/ 83 /BT 0 758) इलाहाबाद से वाराणसी की तरफ जा रही थी। हादसे की जानकारी होते पुलिस मौक़े पर पहुँच गई।  शिक्षिका पत्नी आशा उपाध्याय ने ट्रक चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। राजू उपाध्याय निहायत ही नेक तथा मिलनसार किस्म के व्यक्ति थे। इस घटना पर पत्रकारों ने दुःख जताते हुए जिला प्रशासन एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से परिवार को आर्थिक सहायता देने की मांग की है।

About admin

Check Also

ट्रेन से कटकर एक युवक की मौत

मिर्जापुर। जिले के अदलहाट थाना क्षेत्र के नरायनपुर चौकी के दर्रा गांव के सामने ट्रेन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *