Home / बलिया / बलिया में आकाशीय बिजली से युवक की मौत

बलिया में आकाशीय बिजली से युवक की मौत

रेवती, बलिया। भैंस चराने गये रेवती थाना क्षेत्र के बहादुरपुर दतहां गांव निवासी जितेन्द्र यादव (24) पुत्र बहादुर यादव की मौत गुरुवार को आकाशीय बिजली से हो गई। जीतेंद्र गुरुवार को भैंस चराने के लिए गोबरही ढाला से उत्तर दीयर में गया था। अपराह्न दो बजे अचानक आकाशीय बिजली गिरी, जिसकी चपेट में आने से जितेंद्र की मौत हो गई। अन्य चरवाहों ने इसकी सूचना जितेंद्र के परिजनों को दिया। परिजन रोते-बिलखते घटनास्थल पर पहुंचे। शव को लोगों की सहायता से घर लाया गया। घटना की सूचना पर 100 नं. पुलिस के साथ-साथ रेवती पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। उधर, जितेंद्र की मां मिर्जा देवी दहाड़े मारमार कर रो रही थी। अविवाहित बहने गुड़िया तथा पूनम बार-बार अपने भाई के शव से लिपट जा रही थी, जिसकी वजह से उपस्थित लोगों की आंखे नम हो जा रही थी। सूचना मिलते ही जितेन्द्र की विवाहित बहन सबिता करूण क्रन्दन करते हुए पहुंच गई। जितेन्द्र अविवाहित था। माता-पिता की इकलौते पुत्र तथा 3 बहनों का इकलौता भाई को असमय ही काल के क्रूर पंजों ने जकड़ लिया। गुरुवार को भैस चराने गया जितेंद्र को सपने में भी यह भान नहीं था कि गुरुवार का दिन उसके लिए अंतिम दिन साबित होगा। भैंस चराते वक्त वह अपने साथी चरवाहों से हंसी ठिठोली भी कर रहा था। जितेंद्र के दोनों अविवाहित बहनें गुड़िया तथा पूनम बार-बार यह कहते हुए शव से लिपट रही थी कि अब हम किसकी कलाई पर राखी का धागा बांधेंगे। हे विधाता तूने यह क्या किया? यही हालत कुछ घंटों पश्चात पहुचीं जितेंद्र की विवाहित बहन सविता का भी था। माता मिर्जा देवी की आंखें रोते-रोते शून्य में स्थिर हो जा रही थी। वही पिता रामानंद यादव पर तो मानो बज्रपात हो गया हो और वह किंकर्तब्यविमूढ़ थे।

About admin

Check Also

आरएसओं के न रहने पर मंडलायुक्तव नाराज

मिर्जापुर। आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल मुरली मनोहर लाल ने मंगलवार को निर्माणाधीन स्टेडियम व महिला पालीटेक्निक …