Home / बलिया / बलिया में फांसी पर झूली विवाहिता… यूपी-100 ने बचाई जान

बलिया में फांसी पर झूली विवाहिता… यूपी-100 ने बचाई जान

बलिया। उभांव थाना क्षेत्र अंतर्गत तिरनई खिजिरपुर गांव में सोमवार की दोपहर में परिवारिक कलह से क्षुब्ध एक विवाहिता ने अपनी जीवन लीला समाप्त करने के लिए फंदे से झूल गयी। इसकी सूचना मिलते ही 100 नम्बर पुलिस मौके पर पहुंची और विवाहिता को तत्काल सीएचसी सीयर लेकर पहुंची, जहां चिकित्सकों के अथक प्रयास से उसकी जान बच गयी। हृदय कंपाने वाली घटना की सूचना पर अस्पताल पहुंचे तहसीलदार यशवंत राव, नायब तहसीलदार चन्द्रभूषण प्रताप, सीओ रसड़ा श्रीराम, इंस्पेक्टर उभांव जयचन्द भारती, चौकी इंचार्ज पीके उपाध्याय ने विवाहिता का बयान दर्ज किया।

तिरनई खिजिरपुर गांव निवासी जय गोविंद का विवाह 29 मई 2016 को रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के माधोपुर गांव निवासी स्व. राजेन्द्र प्रसाद की पुत्री नीरज से हुई थी। नीरज देवी सोमवार को लगभग 12 बजे दिन में परिवारिक कलह से क्षुब्ध होकर अपने कमरे का दरवाजा बन्द कर ली। देर तक दरवाजा नहीं खुलने पर उसकी सास ने नीरज देवी के मायके फोन किया। नीरज के चाचा रामबाबू तत्काल पहुंच गये। दरवाजा खुलवाने का प्रयास असफल होने पर उन्होंने 100 नम्बर पर फोन किया। पुलिस बहुत ही समय से पहुंची और एसआई लक्ष्मण सिंह ने किसी तरह दरवाजा को तोड़ा। कमरे में नीरज देवी गले में साड़ी से फांसी का फंदा बनाकर पंखे के हुक से लटकी थी, जिसे देख सभी अवाक रह गये। 100 नम्बर गाड़ी से ही नीरज को सीएचसी सीयर पहुंचाया गया, जहां इलाज के बाद उसकी स्थिति में सुधार है। उभाव थानाध्यक्ष जयचन्द भारती ने बताया कि जांच की जा रही है। तहरीर मिलने पर आवश्यक कार्रवाई होगी।

About admin

Check Also

जुलूस पर रोक के बाद ‘समाजसेवी’ ने दिखायी ऐसी ताकत

बलिया। नगर पालिका के अध्यक्ष पद के निर्दल प्रत्याशी अजय कुमार समाजसेवी का रामलीला मैदान …