Breaking News
Home / अपराध / जौनपुर मे अज्ञात कारणों से लगी आग से तीन मासूमो सहित चार जिंदा जले, मौत

जौनपुर मे अज्ञात कारणों से लगी आग से तीन मासूमो सहित चार जिंदा जले, मौत

बरसठी।रियालुज हक। बरसठी के दाऊद पुर गांव में बीती रात ऐसी ह्रदय विदारक घटना घटी ,जिससे गांव ही नहीं पूरा क्षेत्र दहल गया।कच्चे मकान के कमरे में सो रही माँ,और उसकी तीन बेटियों की अज्ञात कारणों से लगी आग से जल कर दर्द नाक मौत हो गयी। क्षेत्र के दाऊद पुर गांव में बीती रात दुर्बली हरिजन की सबसे छोटी बहू कुसुम खाना खाने के बाद हलकी हल्की हो रही बूंदा बांदी के कारण अपनी तीनपुत्रीयों अंजलि (7 वर्ष) कुन कुन(4वर्ष) तथा बेबी (8 माह) को लेकर सो रही थी कि रात लगभग ढाई बजे घर के छप्पर से आग कि लपटे उठते हुए किसी पडोसी ने देखा तो शोर मचाया ।प्रत्यक्ष दर्शियो के अनुसार आग की लपटे इतनी भंयकर उठ रही थी कि घर के आँगन में जाने की किसी की हिम्मत नहीं पड़ रही थी। मृतका का पति उमेश , उसके भाई, पिता जो बाहर के छप्पर में सो रहे थे तथा गांव के कुछ युवक किसी तरह हिम्मत करके घर के आँगन में गए तो देखा की घर के दरवाजे से भी भंयकर आग की लपटे निकल रही थी ।घर तथा उसमे बना कोठा की लकड़ी जल कर माँ ,बेटियो के ऊपर गिर रहा था।शोर सुनकर आस पास की बस्तियो के लोग भी मौके पर आ गये। करीब तीन घंटे के अथक प्रयाश के बाद किसी तरह आग पर काबू पाया गया। अंदर घर के जले हुए मलबे के नीचे तीनों बेटियां तथा माँ दबी हुई थी ।सूचना सुबह पर पहुंची बरसठी पुलिस तत्परता दिखाते हुए मलबे से चारो को फावड़े की मदद से बाहर निकलवाया। इस ह्रदय विदारक घटना की जानकारी पुरे क्षेत्र में जंगल के आग की तरह फ़ैल गयी ।जो जहाँ सुना मौके पर पहुँच गया।घटना कीसूचना पुलिस ने जिले के सभी आला अधिकारियो को दिया। सूचना पाकर सांसद मछलीशहर के प्रतिनिधि राजेश सिंह अपनी पूरी टीम के साथ घटना स्थल पर पहुँच कर पीड़ित परिवार की मदद में लग गए तथा अपने स्तर से यथा संभव आर्थिक मदद भी किये। दिन में करीब 11 बजे जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्रा, पुलिस अधिक्षक सुशिल कुमार पाण्डेय,फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुँच कर वस्तु स्थिति कि जानकारी लिए तथा पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए हर संभव मदद का आश्वाशन दिये। उप जिलाधिकारी मड़ियाहूं राम अवध ,सी ओ राम भुवन यादव अपने अधिनस्थो के साथ सुबह सात बजे ही घटना स्थल पर पहुँच गये थे। भाजपा के  सभी छोटे बड़े कार्य कर्ता सुबह से ही घटना स्थल पर डटे रहे। घटना की सुचना पाकर पूर्व कैबिनेट मंत्री पारस नाथ यादव भी जौनपुर से बरसठी थाने पर आ गए । एक साथ मासूमो सहित चार शव देखकर उनके भी आँखों में आंसू आ गये। पारस नाथ यादव ने पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए हर संभव मदद का आश्वाशन दिया।  क्षेत्रीय विधायक और पूर्व राज्य मंत्री जगदीश सोनकर का इतनी दर्द नाक हादसे के बावजूद न पहुंचना लोगो के बीच चर्चा का विषय बना रहा।

 

About admin

Check Also

मिर्जापुर: दस मृतक श्रद्धालुओं को मुख्यमंत्री राहत कोष से ढाई-ढाई लाख रूपये व घायलों को मिलेंगे 25 हजार रूपये

मडिहान ( मिर्जापुर )। जिले के मड़िहान थाना क्षेत्र में ट्रक और ट्रैक्टर की सोमवार …