Breaking News
Home / बलिया / रागिनी हत्याकांड: बोले उर्जा मंत्री… फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई

रागिनी हत्याकांड: बोले उर्जा मंत्री… फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई

बलिया। सूबे के उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार बेटियों की सुरक्षा के प्रति संवेदनशील है। बेटी की सुरक्षा के लिए हर स्तर तक सरकार जाएगी। वे शनिवार को बांसडीह रोड थाना क्षेत्र के बजहां गांव स्थित मृतका रागिनी के घर पहुंचे थे। परिजनों से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की। हरसंभव सहयोग का भरोसा दिलाया। कहा कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी, ताकि फिर कोई ऐसी घटना करने की हिम्मत न कर सके। परिजनों से मिलने के बाद उर्जा मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी भी इस घटना के प्रति सख्त हैं। आरोपी अपराधी नहीं, बल्कि दरिंदे कहे जाएंगे। और दरिंदों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी। कहा कि हमारी पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आठ घंटे के भीतर फरार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। रागिनी के परिजनों की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखा जाएगा। परिजनों द्वारा फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई कराने की मांग पर उर्जा मंत्री ने कहा कि इसके लिए सरकार पहल करेगी। सांसद भरत सिंह, विधायक आनंद स्वरूप शुक्ला, विधायक सिकंदरपुर संजय यादव, विधायक धनन्जय कन्नौजिया इत्यादि मौजूद रहे। इससे पहले जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम ने रागिनी दूबे के परिजनों से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त किया। भरोसा दिलाया कि इस घटना के दोषियों को सख्त सजा मिलेगी। परिजनों ने मांग किया कि घटना की जांच किसी ईमानदार अधिकारी द्वारा किया जाए। आरोपी पर कड़ी धाराओं के तहत कार्रवाई हो, ताकि फिर ऐसी घटना करने की कोई हिम्मत नही जुटा सके। जिलाधिकारी ने भरोसा जताया कि हर मांग को गंभीरता से लिया जाएगा। आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि आरोपी प्रधान की मनी लांड्रिंग से लेकर पूर्व में अर्जित सम्पति की जांच शुरू हो चुकी है। दो बार प्रधान रहने के दौरान उसने काफी वित्तीय अनियमितताएं कर काफी धन एकत्र किया गया है। गांव की सभी विकासपरक, लाभार्थीपरक, रोजगारपरक व अन्य तरह के कामों की जांच करवाई जाएगी। आरोपी प्रधान को किसी भी सूरत में बख्सा नहीं जाएगा। शुक्रवार को सांसद भरत सिंह शनिवार को बजहां में मृतका रागिनी दूबे के घर पहुंचकर पिता जितेन्द्र नाथ दूबे से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की तथा न्याय दिलाने का भरोसा दिया। कहा कि इस घटना की जितनी भी निंदा की जाय, कम है। डॉ. अरूण सिंह गामा, मोहन मिश्र, राजीव मोहन चौधरी, अरूण सिंह बंटू, शैलेश पाण्डेय, प्रेमप्रकाश सिंह, मुन्ना ठाकुर, अशोक सिंह, विमलेश सिंह, अखिलेश, कमलेश सिंह, कमलेश पाण्डेय, प्रमोद पाण्डेय, विशाल गौतम, समीप ठाकुर, प्रशांत राय, सौरभ सिंह रानू, चन्द्रशेखर सिंह आदि मौजूद रहे।

About admin

Check Also

मिर्जापुर: दस मृतक श्रद्धालुओं को मुख्यमंत्री राहत कोष से ढाई-ढाई लाख रूपये व घायलों को मिलेंगे 25 हजार रूपये

मडिहान ( मिर्जापुर )। जिले के मड़िहान थाना क्षेत्र में ट्रक और ट्रैक्टर की सोमवार …