Breaking News
Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / अपने-अपने विभाग के अधूरे कार्य को करा ले पूर्णः जिलाधिकारी

अपने-अपने विभाग के अधूरे कार्य को करा ले पूर्णः जिलाधिकारी

मिर्जापुर। जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद के नामित नोडल अधिकारी/प्रमुख सचिव के संभावित भ्रमण से संबंधित बैठक सम्पन्न हुई। बैठक मे जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कराये जा रहें विकास कार्यो में तेजी लाई जाये। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे जनपद के सर्वागीण विकास हेतु युद्ध स्तरीय प्रयास करें तथा यह सुनिश्चित करें कि उनके विभाग द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में पूरी तत्परता व गति बनी रहे, ताकि योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति को सरलता से प्राप्त हो सके। उन्होने कहा कि योजनाओं के क्रियान्वयन में उदासीनता/लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि निर्माण कार्यो को समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ पूरा किया जाये। उन्होने कहा कि सभी अधिकारी अपने विभागों द्वारा संचालित योजनाओं को स्थलीय निरीक्षण करें, ताकि योजनाओं के संचालन में अपेक्षित गति आ सके। उन्होने कहा कि सभी विभाग अपने से संबंधित सभी तैयारियां पूर्ण कर लें। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि आईजीआरएस के समस्त प्रकरणो को प्रत्येक दशा में निस्तारण किया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होने कहा कि तहसील दिवस को पूर्ण समाधान दिवस बनाने के लिए सभी अधिकारी युद्धस्तरीय प्रयास करें। उन्होने कहा कि शासन के मंशानुरूप समय अवधि में निस्तारण किया जाये। उन्होने कहा कि निस्तारण में शिथिलता बरतने वाले अधिकारी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने अधिशासी अभियन्ता विद्युत को निर्देशित किया कि शहर में 24 घंटे तथा ग्रामीण क्षेत्र में 48 घंटे के अन्दर क्षतिग्रस्त ट्रान्सफार्मर को हर हाल में बदलना सुनिश्चित कराये। उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि स्वास्थ विभाग द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाएं तथा यह सुनिश्चित करें कि सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र व प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र में चिकित्सको की उपस्थिति शत-प्रतिशत हो तथा आवश्यक दवाओं का समुचित प्रबन्ध हो। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी अधिकारी अपने कार्यालय का 15-15 दिनों में स्वयं निरीक्षण करें तथा एक निरीक्षण रजिस्टर बनवाये। उन्होने फसल ऋण मोचन योजना की समीक्षा की किसानों को मिलने वाली सहायता वितरण कराने के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये। उन्होने विभिन्न विभागो में निर्माण कार्य करने वाली कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने कार्य गुणवत्तापूर्वक ससमय पूरा करें। बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 उमेश यादव, उपजिलाधिकारीगण, परियोजना निदेशक, डीसी मनरेगा, अर्थ एवं संख्या अधिकारी सहित सभी अधिकारी उपस्थित रहें।

 

About admin

Check Also

सीएमओ ने लगाई हाजिरी, अनुपस्थित मिले सात कर्मचारी

बलिया। शासन से चार्ज मिलते ही मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एसपी राय जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं …