Breaking News
Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / 70 घंटे बाद सीएम योगी पहुंचे बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर, बीआरडी मेडिकल कालेज के नये प्राचार्य पीके सिंह

70 घंटे बाद सीएम योगी पहुंचे बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर, बीआरडी मेडिकल कालेज के नये प्राचार्य पीके सिंह

लखनऊ/गोरखपुर। बाबा राघवदास मेडिकल कालेज गोरखपुर में बीते तीन दिन में 60 लोगों की मौत के बाद आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वहां पहुंचे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर एयरपोर्ट से मेडिकल कालेज के लिए निकले। उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा भी हैं।बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में आक्सीजन की कमी से हुई मासूमों की मौत के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के साथ मेडिकल कालेज पहुंच गए हैं। वह बालरोग वार्ड में भर्ती मरीजों के परिजनों से बात कर रहे है। ऑक्सीजन के बारे में भी जानकारी ले रहे हैं। उनका दौरा तब हुआ जब गोरखपुर मेडिकल कालेज में ऑक्सीजन ठप होने से मासूमो की मौत हो गई।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गोंडा, श्रावस्ती, बाराबंकी व बहराइच के बाढग़्रस्त क्षेत्रों का हवाई सर्वे स्थगित कर दिया। अब अपनी कर्मस्थली गोरखपुर का रुख किया जहां चार दिन पहले गए थे। उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा भी बाबा राघवदास मेडिकल कालेज का दौरा करेंगे जहां पर आक्सीजन की कमी के कारण 60 लोगों ने तीन दिन में दम तोड़ दिया। जिनमें 42 बच्चे भी हैं।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में आने के कारण वहां वार्ड से मरीजों के परिवार के लोगों को बाहर किया जा रहा । वहां पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त हैं। बाबा राघवदास मेडिकल कालेज प्रांगण में डॉग स्क्वॉड तथा बम निरोधक दस्ता ने जांच की है। इसके साथ ही इंसेफ्लाइटिस वार्ड का रास्ता साफ कराया गया है। मेडिकल कालेज के बाहर भी सुरक्षा व्यवस्था काफी मुस्तैद है।सीएम योगी ने कल अपने निजी ट्विटर अकाउंट से मारे गए बच्चों के परिवारों के लिए संवेदना प्रकट की। उन्होंने अपने पहले ट्वीट में लिखा कि इस असीम दु:ख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएँ शोकाकुल परिवारों के साथ हैं।वहीं अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा कि बाबा राघवदास मेडिकल कालेज गोरखपुर की कल की हृदय विदारक घटना हम सब को असीम पीड़ा दे गई।बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में जिस लिक्विड ऑक्सीजन की कमी से 60 से अधिक लोगों की जानें गई, वह लिक्विड ऑक्सीजन आज तड़के करीब चार बजे मेडिकल कॉलेज पहुँच गई। इन्सेफ्लाइटिस वार्ड के प्रभारी डॉ कफील खान ने यह जानकारी दी। प्रमुख सचिव स्‍वास्‍थ्‍य ने अनिता जैन ने बीआरडी मेडिकल कालेज प्रभारी प्राचार्य के रूप में पीके सिंह नियुक्ति का आदेश दिया है। उन्‍हे तत्‍काल कालेज में जाकर अपना पदभार ग्रहण करने को कहा गया है।

 

About admin

Check Also

मिर्जापुर: दस मृतक श्रद्धालुओं को मुख्यमंत्री राहत कोष से ढाई-ढाई लाख रूपये व घायलों को मिलेंगे 25 हजार रूपये

मडिहान ( मिर्जापुर )। जिले के मड़िहान थाना क्षेत्र में ट्रक और ट्रैक्टर की सोमवार …