Breaking News
Home / बलिया / बोले रामगोविन्द… बाढ़ पीड़ितों का दर्द नहीं समझ रही सरकार

बोले रामगोविन्द… बाढ़ पीड़ितों का दर्द नहीं समझ रही सरकार

रेवती, बलिया। नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी मंगलवार को मनियर से लेकर वशिष्ठ नगर प्लाट तक बाढ़ क्षेत्र का जायजा लिया। मनियर से ककरघट्टा, नवकागांव, एलासगढ़, संगापुर, घोरौली, महाधनपुर, भोज छपरा होते हुए दतहां स्थित टीएस बंधे के 68. 4 से किलोमीटर पर पहुंचे नेता प्रतिपक्ष ने तीलापुर डेंजर जोन का सच देखा। कहा कि अप्रैल से ही बाढ़ विभाग के अधिकारियों तथा सरकार के नुमाइंदों से बाढ़ सम्बंधित विन्दुओं पर एहतियात बरतने को कहा जा रहा है, लेकिन अधिकारियों के कानों पर जूं तक नहीं रेंगा। बचाव का कार्य अप्रैल से जून तक होता है।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सदन में बाढ़ पर दो घंटे की चर्चा भी हुई, जिसमें पूरे प्रदेश के साथ-साथ बलिया के बाढ़ की हालात से मैने सरकार को अवगत कराया। लेकिन सरकार को जनता से कोई सरोकार नहीं है। सरकार पब्लिक को गंगा सफाई, झाड़ू, रामनवमी, जन्माष्टमी, जीएसटी, नोटबंदी में ही उलझाए हुए हैं, वह भी दिखावे के लिए। नवकागांव में प्रधानमंत्री सड़क कटने से कई गांव बाढ़ के पानी की चपेट में आ गए हैं। नवकागांव कटने के कगार पर है। नवकागांव का ककरघट्टा के लोगों को राशन-किरोसिन की समस्या उत्पन्न हो गई है। पशुओं के लिए चारे की व्यवस्था अब तक नहीं हो सकी है। बहुमत से जीतने के कारण सरकार अहंकारी हो गई है। सरकार विपक्ष विहीन राजनीति करने की मंशा रखते हुए लोकतंत्र को नष्ट करने के प्रयास में है। मांग किया कि गंगा एवं घाघरा से कट रहे गांवों को बचाया जाए। बाढ़ पीड़ित परिवारों को तत्काल सहायता उपलब्ध कराया जाए। नर-नारी एवं पशुओं की दवा की व्यवस्था हों। सपा के वरिष्ठ नेता राणा प्रताप सिंह, हरेंद्र सिंह, राणाप्रताप यादव दाढी, कान्ह जी पाण्डेय, रामदेव यादव, छितेश्वर सिंह, लल्लन यादव बैशाखी, वंश बहादुर सिंह, फेकू उपाध्याय, सुनील मौर्य, विजय चौहान, ओम प्रकाश गोंड़, अशोक यादव आदि साथ रहे।

About admin

Check Also

धान केंद्र पर खराब मशीन देखकर भड़के विधायक

राजगढ़ (मिर्जापुर) ।क्षेत्र के किसानों के शिकायत पर बुधवार को मड़िहान विधायक रामशंकर सिंह पटेल …