Breaking News
Home / न्यूज़ बुलेटिन / भदोही के दुर्गा पूजा पंडाल में दिखेंगी खजुराहो के कंदरिया महादेव मंदिर की झलक

भदोही के दुर्गा पूजा पंडाल में दिखेंगी खजुराहो के कंदरिया महादेव मंदिर की झलक

भदोही । उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में  नवरात्र दुर्गा पूजनोत्सव समारोह में इस वर्ष पूजन पंडाल के रूप में विश्व प्रसिद्ध श्री कंदरिया महादेव मंदिर खजुराहो की झलक दिखाई देगी। पश्चिम बंगाल से आए कारीगर डेढ़ माह से मंदिर के प्रति रूप पंडाल बनाने में लगे हुए हैं।
मां सिंह वाहिनी श्रृंगार समिति शिवम क्लब के तत्वाधान में ऐतिहासिक मां दुर्गा पूजन समारोह 26 सितंबर से 4 अक्टूबर तक चलेगा। समिति द्वारा पूजन पंडाल के रूप में इस वर्ष उक्त भव्य मॉडल तैयार कराया जा रहा है। इसकी ऊंचाई लगभग 100 फीट चौड़ाई 90 फीट लंबाई 110 फीट है पंडाल निर्माण में 10 ट्रक बीस, 16 कुंतल रस्सी, छह ट्रक लकड़ी, 10 कुंतल कील, 12 सौ मीटर कपड़ा आदि सामान का उपयोग किया जा रहा है। इस भव्य पंडाल का कार्य अपने बीस सहयोगियों के साथ नेपाल दादा व शिवाकांत दादा लगभग डेढ़ महीने से पूर्ण करने में प्रयास में लगे हैं। शिवम क्लब द्वारा इसके पूर्व इसी स्थान पर पंडाल के रूप में अयोध्या में प्रस्तावित रामजन्म भूमि, महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन, कोणार्क का सूर्य मंदिर उड़ीसा, स्वामीनारायण मंदिर इंग्लैंड, श्री रामेश्वर मंदिर तमिलनाडु, मां वैष्णो देवी गुफा जम्मू, कारगिल की पहाड़ी, अक्षरधाम मंदिर गांधीनगर, सोमनाथ मंदिर गुजरात केदारनाथ मंदिर हिमालय पशुपतिनाथ मंदिर काठमांडू नेपाल आदि मंदिरों का मॉडल तैयार कराया जा चुका है। पूजन पंडाल में मूर्तिकार मदनमोहन पाल, समरपाल, खखुन विश्वास, व मिलन पाल अपने 10 सहयोगी के साथ लगातार अथक प्रयास से 21 फीट ऊंची शेर पर सवार होकर कामधेनु गाय के साथ महिषासुर का मर्दन करती हुई मां दुर्गा की भव्य मूर्ति के साथ में कार्तिक गणेश लक्ष्मी सरस्वती आदि देवी देवताओं की मूर्ति बनाने का कार्य कर रहे हैं। प्रबंधक रामकृष्ण खट्टू ने बताया कि पंडाल की अनुमानित लागत लगभग 30 लाख रुपए है। समिति के अध्यक्ष उदयभान सिंह है। उपाध्यक्ष संदीप , पिंटूू लोहा सिंह, अजीत सिंह, आनंद कुमार, बांगुर शुक्ला, अजय  आदि लोग देख रेख में लगे हुए हैं।

About admin

Check Also

भदोही: ब्लू व्हेल ने उड़ाई नींद, डीएम बोले बच्चों के हाथ न दे मोबाइल

भदोही । देश में ब्लू व्हेल गेम से बढ़ती मौत ने सरकार की चिंता बढ़ा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *