Breaking News
Home / बनारस / वाराणसी: मोदी के कार्यक्रम में मुस्लिम महिलाओं को लाने का जिला प्रशासन का मिशन फेल

वाराणसी: मोदी के कार्यक्रम में मुस्लिम महिलाओं को लाने का जिला प्रशासन का मिशन फेल

वाराणसी। पीएम मोदी के पहली बार मस्जिद में जाने के लेकर विवाद ठंडा नहीं हुआ था कि उनके संसदीय क्षेत्र काशी में जिला अल्पसंख्यक अधिकारी का नया फरमान जारी हो गया। पीएम के प्रस्ताविक कार्यक्रम के दौरान डीएलडब्ल्यू में हर मदसरे से 25-25 महिलाओं को भेजने का आदेश जारी हो गया। इसके लिए शनिवार तक फोटोग्राफ भी जमा कराने थे। टीचर्स एसोसिएशन मदरसा अरबिया ने इसका पुरजोर विरोध किया। उनका आरोप था कि लगातार मदरसों को निशाना बनाया जा रहा है और हद पार करते हुए एक निजी एनजीओ का कार्यक्रम में भी मदरसों की छात्राओं को भाजपा कार्यकर्ता की तरह भेजने का तुगलगी फरमान जारी कर दिया गया है। मामला सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद प्रशासन बैकफुट पर आ गया और आदेश वापस ले लिया गया।

जिला अल्पसंख्यक अधिकारी की तरफ से 15 सितंबर को सभी अनुदानित और गैर अनुदानित मदरसों के प्रबंधक व प्रधानाचार्य को पत्र भेजा गया था। इसमें पीएम के 22 को डीएलडब्ल्यू में होने वाले कार्यक्रम में महिलाओं के बैठने की व्यवस्था का जिक्र करते हुए निर्देशित किया गया था कि हर मदरसे से 25-25 महिलाओं को भेजा जाये। सभी इसकी खातिर किसी को अधिकृत करते हुए उसकी फोटोग्राफ भेजे जिससे पास बन सके। इसकी बैठक सोमवार को बुलायी गयी थी।
मामले की जानकारी मिलने के बाद टीचर्स एसोसिएशन मदरसा अरबिया खुलकर विरोध में आ गयी। उसका आरोप था कि डाटा बेस बनाने के नाम पर डीएम की अगुवाई में कमेटी बना दी जिससे ईद व रमजान में भी पहली बार वेतन नहीं मिला। नियमों का वास्ता देकर आज भी 46 मदरसों का वेतन रोका गया है। हद तो तब हो गयी जब राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के अयोध्या में कार्यक्रम में मदरसा शिक्षकों को शामिल होने तथा पीएम के कार्यक्रम में मुस्लिम छात्राओं को भेजने का फरमान जारी हो गया।

About admin

Check Also

ददरी मेला: ADM नोडल व सिटी मजिस्ट्रेट बने मेला मजिस्ट्रेट

बलिया। ददरी मुख्य स्नान को लेकर पुलिस प्रशासन तगड़ी व्यवस्था कर रहा है। इस अवसर …