Breaking News
Home / न्यूज़ बुलेटिन / 1420 दिव्यांगों को वितरण किया गया कृत्रिम उपकरण

1420 दिव्यांगों को वितरण किया गया कृत्रिम उपकरण

मिर्जापुर। सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर और केन्द्रीय परिवार कल्याण एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने संयुक्त रूप से जिले के राजकीय इंटर कालेज के मैदान में आयोजित समारोह में 1420 दिव्यांगजनों को निःशुल्क सहायक उपकरण का वितरण किया गया। इस अवसर बतौर मुख्य अतिथि श्री गुर्जर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा सरकार बनते ही समाज के प्रत्येक वर्ग के लेागो की तरफ निगाह गई और उसी क्रम में दिव्यांग बन्धुओं का सबसे पहले नाम परिवर्तित कर उन्हें सम्मान दिया गया। उन्होने कहा कि भारत सरकार द्वारा दिव्यांग जनों को समाज की मुख्य धारा में जोड़ने के लिए देश के जगह-जगह कैम्प का आयोजन कर निःशुल्क सहायक उपकरणों का वितरण किया जा रहा है। ताकि वे आसानी से चल फिर सके या सुन सके। उन्होने बुधवार को जिले में कैम्प लगाकर एल्मिको कानपुर के सहयोग से 1420 दिव्यांगों को उनके आवश्यकतानुसार विभिन्न प्रकार के सहायक उपकरण का वितरण कर उन्हें सम्मान देने का काम सरकार द्वारा किया जा रहा है। उन्होने कहा कि इस दिशा में परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल के द्वारा किया गया कार्य सराहनीय है जो उनके अथक प्रयास से संभव हो सका है।

मंत्री श्री गुर्जर ने कहा कि दिव्यांग बन्धुओं के लिए हमारी सरकार द्वारा नौकरियों के लिए बैकलांग में रिक्त पदों पर भरने का काम किया। इसके अलावा नौकरियों में पूर्व में दिव्यांगों के लिए तीन प्रतिशत आरक्षण को बढ़ाकर चार प्रतिशत तथा शिक्षा के क्षेत्र में मिलने वाले आरक्षण को तीन प्रतिशत से बढ़ाकर पांच प्रतिशत करने का काम  किया है। जिससे उनकी भागीदारी शिक्षा व नौकरियों में अधिक हो सके। उन्होने कहा कि आगे जिले में और कैम्प का आयोजन किया जायेगा। उन्होने कहा कि जिले में कोई भी ऐसा दिव्यांग व्यक्ति नही रहेगा जिसे सहायक उपकरण न मिले इसके लिए जिला प्रशासन को निर्देशित किया कि सभी दिव्यांगों को चिन्हित करे ताकि अगले कैम्प में सभी को सहायक उपकरण दिया जा सके। उन्होने कहा कि दिव्यांगों के लिए बैटरी चालित मोटर साइकिल का भी निर्माण कराया जा रहा है आगे उन्हें बैटरी चालित मोटर साइकिल भी दिया जायेगा। उन्होने सभी को इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही श्रीमती पटेल ने कहा कि जिनके शरीर में किसी भी प्रकार की अक्षमता है उन्हें सशक्त बनाने की दिशा में हमारी सरकार काम कर रही है। उन्होने कहा कि पहले मात्र सात प्रकार के ही दिव्यांगों को चिन्हित किया गया था परन्तु इसके लिए नये कानून के तहत किसी भी प्रकार के दिव्यांगता को शामिल किया जायेगा और सहयोग प्रदान किया जायेगा। उन्होने कहा कि दिव्यांगों के जीवन के सशक्त बनाने की दिशा में भारत सरकार प्रयास कर रही है कि उन्हें देश के मुख्य धारा से जोड़ा जाय। उन्होने कहा कि आज दिव्यांग जन अपने कौशल के बल पर देश के अनेक क्षेत्रो में अच्छा कार्य किया है। उन्होने कहा कि जिले के दिव्यांगों को सशक्त बनाने की दिशा में कैम्प का आयोजन कर 1420 दिव्यांगों को कुल 1603 उपकरणें जिनकी कुल लागत एक करोड़ सात लाख 96 हजार की है का उपकरण वितरण किया गया। उन्होने कहा कि जिन्हें नहीं मिला है उन्हें चिन्हित कर वितरण किया जायेगा।

इस अवसर पर नगर विधायक रत्नाकर मिश्र, मड़िहान विधायक रमाशंकर सिंह पटेल, सुचिश्मिता मौर्या, अनुराग सिंह, एमएलसी रामलली मिश्र, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमिला सिंह के अलावा अपर जिलाधिकारी विजय बहादुर, नगर मजिस्ट्रेट देवेन्द्र प्रताप मिश्र, जिला विकलांग कल्याण अधिकारी दिव्या शुक्ला आदि उपस्थित रहे।

 

 

 

 

 

About admin

Check Also

बसपा को बाय कर शिवशंकर ने बनाया जनता क्रांति पार्टी

रेवती, बलिया। पूर्व विधायक शिवशंकर चौहान ने बसपा की नीतियों से त्रस्त होकर पार्टी छोड़कर …