Breaking News
Home / चंदौली / सद्भावना यात्रा में जमकर उड़े अबीर-गुलाल

सद्भावना यात्रा में जमकर उड़े अबीर-गुलाल

चंदौली। नगर के सकलडीहा रोड पर रविवार की सुबह अबीर-गुलाल के साथ भक्तों की आस्था फिजा में तैर रही थी। अबीर-गुलाल में लिपटे लोग बाबा की भक्ति में पूरी तरह से लीन थे।  अवसर था मौनी बाबा के सद्भावना यात्रा के आगमन व नगर से उसकी भव्य विदाई का। कोड़रिया स्थित साईं आश्रम से निकली सद्भावना यात्रा जैसे ही नगर क्षेत्र में पहुंची भक्तों का हुजूम यात्रा में शामिल हो गया। लोग बाबा का जयकारा बुलंद करते हुए सकलडीहा रोड से होते बिछियां की ओर रवाना हुए। इस दौरान जगह-जगह भक्तों में प्रसाद वितरण हुआ। कई स्थानों पर भंडारे का भी आयोजन किया गया। विदित हो कि प्रति वर्ष क्षेत्र के कोड़रियां स्थित साईं आश्रम से हंसानन्द स्वामी की निगरानी में सद्भावना यात्रा निकाली जाती है, जो बुलंदशहर तक जाती है। इसी कड़ी में रविवार को सद्भावना यात्रा कोड़रिया से निकली, जो मुख्यालय से होकर गंतव्य के लिए रवाना हुई। इसी कड़ी में जिला मुख्यालय पर यात्रा के पहुंचते ही सैकड़ों की संख्या में भक्त झांकी के दर्शन को उमड़ पड़े। साथ ही भक्तों में डोला खींचने के लिए होड़ मच गयी। भक्त जयकारा लगाते हुए आगे बढ़ते रहे। यात्रा में भजन-कीर्तन व बैंड बाजे की धुन पर भक्त थिरकते रहे। सद्भावना यात्रा मुख्यालय पर सकलडीहा रोड से होकर गुजरा। यात्रा में शामिल भक्त अबीर-गुलाल उड़ाते हुए आगे बढ़ रहे थे। इसके पूर्व कोड़रिया आश्रम पर कीर्तन के साथ ही भंडारे का आयोजन किया। इसमें आसपास के ग्रामीण इलाकों के काफी संख्या में भक्त जुटे रहे। इसके बाद दीप प्रज्जवलित कर सद्भावना यात्रा का आरम्भ किया गया। इसमें अनिल सिंह, मुट्टून सिंह, गिरीश सिंह, दीपू सिंह, बाबू, विपुल, सनी, बुलबुल, पंकज, गोपाल, बलराम, कल्लू, नन्हें आदि शामिल रहे।

About admin

Check Also

शपथ के साथ बलिया में बैठी 10 नगर पंचायतों की ‘कैबिनेट’

बलिया। मंगल को मंगल ही मंगल था। मौका था जिले की दो नगर पालिका व …