Breaking News
Home / न्यूज़ बुलेटिन / बलिया ‘बवंडर’: सपा की समिति ने सुनीं पीड़ितों की व्यथा

बलिया ‘बवंडर’: सपा की समिति ने सुनीं पीड़ितों की व्यथा

सिकंदरपुर, बलिया। सिकंदरपुर में दशहरा व मुहर्रम के दिन भड़की हिंसा की जांच के लिए सपा के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा गठित समिति सोमवार को सिकन्दरपुर पहुंचकर स्थिति का जायजा ली। जांच समिति ने एक-एक कर सभी पीड़ितों से बंद कमरे में बात कर न सिर्फ न्याय का भरोसा दी, बल्कि अपनी रिपोर्ट भी तैयार की।

समिति में शामिल एमएलसी व पूर्व मंत्री बलराम यादव ने कहा कि यह घटना केवल सिकंदरपुर में ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश में हुई है। भाजपा की जब-जब सरकार बनती है, एक विशेष वर्ग के लोगों के साथ अत्याचार किया जाता है। शासन और प्रशासन के लोग भी सरकार के इशारे पर एक समुदाय के लोगों को परेशान करने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि सिकन्दरपुर की वस्तु स्थिति से सपा के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष को अवगत कराया जायेगा। साथ ही महामहिम राज्यपाल व मुख्यमंत्री से निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जाएगी। वहीं, विधायक नफीस अहमद ने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों से कहा कि मुसलमानों के लिए भारत एक ऐसा देश है, जहां हम अपने को सुरक्षित महफुज करते है। किसी कारणवश हमारे बीच के अराजक तत्व सांप्रदायिकता को बढ़ाने का काम करते हैं। लेकिन हमें इस मामले को शांत कराने का प्रयास करना चाहिए। कहा कि हिंदू भाई भी हमारा कम सहयोग नहीं करते हैं। महाराष्ट्र दंगा हो या  गुजरात का, हर जगह हमारी कौम के लोगों को हिंदुओं ने ही पनाह देने का काम किया। हम सभी  आपसी सामंजस्य बनाने के साथ ही द्वेषता को भुलाकर गुलाबो की नगरी में एक साथ रहने का प्रयास करें। पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि बलिया का इतिहास और भूगोल दोनों शानदार रहा है। बहुत कम लोगों का सौभाग्य प्राप्त होता है, जो बलिया की सरजमी पर जन्म लेते हैं। उन्होंने दोनों समुदाय के लोगों को एक साथ मिल बैठकर रहने व अपने समाज में आरजकतत्वों को चिन्हित कर उन्हें सजा दिलाने का काम करने की अपील किया। पूर्व मंत्री मोहम्मद रिजवी, रामसुंदर दास निषाद, पूर्व विधायक जयप्रकाश अंचल, जिलाध्यक्ष यशपाल सिंह, लक्ष्मण गुप्ता, डॉ. मदन राय, विवेक सिंह, पूर्व विधायक सनातन पांडे, गोरख पासवान, संग्राम सिंह यादव, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि रामवचन यादव, विश्राम यादव, गुड्डू सिंह, चंद्रमा यादव, जिला पंचायत सदस्य अनंत मिश्रा, शिवजी यादव त्यागी, रवि यादव, संजय यादव, खुर्शीद आलम, सुरेंद्र यादव, त्रिलोकी यादव, आद्याशंकर यादव, मतलूब अख्तर मौजूद रहे।

 

चप्पे-चप्पे पर रही फोर्स, अफसर करते रहे मानीटरिंग

सोमवार को सपा की पांच सदस्यीय जांच समिति को लेकर प्रशासन काफी चौकन्ना रहा। एएसपी विजय पाल सिंह, एसडीएम सिकंदरपुर राजेश यादव, सीओ श्रीभगवान सहाय, नगरा मोड़ पर मौजूद रहे। एक साथ कस्बे में पांच लोगों से अधिक लोगों को जाने से रोक दिया जा रहा था। जगह-जगह पुलिस व पीएसी के जवान तैनात किए गए थे। खुफिया विभाग भी काफी सक्रिय रहा। सिकंदरपुर कस्बे के अंदर जाने वाले सभी मार्गो पर पुलिस फोर्स तैनात रहा। एसडीएम राजेश यादव ने समाजवादी पार्टी के स्थानीय नेताओं को निर्देशित कर दिया कि धारा 144 लागू होने के कारण कस्बे में कोई प्रवेश नहीं कर सकता है। इसके चलते डाक बंगला सिकंदरपुर से ही जांच समिति पीड़ितों से मिलकर वापस चली गई।

 

18 बसपा नेताओं पर मुकदमा

सिकन्दरपुर में निषेधाज्ञा लागू होने के बावजूद बसपा नेताओं का भ्रमण करना महंगा पड़ा। पुलिस ने बहुजन समाज पार्टी के जोन इंचार्ज इंदल राम, पूर्व पार्टी प्रत्याशी राज नारायण यादव, जिलाध्यक्ष रणजीत कुमार भारती सहित 18 लोगों के विरुद्घ धारा 153, 188 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

 

मजिस्ट्रीयल जांच में कोई भी दे सकता है साक्ष्य

अपर जिला मजिस्ट्रेट मनोज कुमार सिंघल ने कहा कि कस्बा सिकन्दरपुर में 30 सितम्बर को आनन्दी स्वीट दुकान के पास तथा 01 सितम्बर को मुहर्रम में 26वॉ अन्तिम ताजिया वापसी के दौरान जल्पा चौक पर आगजनी व अप्रिय घटना की मजिस्ट्रीयल जांच की जा रही है। यदि उक्त घटना से सम्बन्धित कोई व्यक्ति गवाही/साक्ष्य उपलब्ध कराना चाहता है तो वह अपर जिला मजिस्ट्रेट के न्यायालय कक्ष में अगले तीन दिवसो में आकर उपलब्ध करा सकता है। कहा कि उक्त व्यक्ति का नाम व पता गोपनीय रखा जायेगा।

About admin

Check Also

दीपावलीः लक्ष्मी-गणेश मूर्ति संग आतिशबाजी की हुई खरीदारी

चंदौली। दीपावली पर्व के मद्देनजर बाजार में बुधवार को खरीदारों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *