Breaking News
Home / बलिया / निषेधाज्ञा का हवाला देकर प्रशासन ने रोकी ‘न्याय यात्रा’

निषेधाज्ञा का हवाला देकर प्रशासन ने रोकी ‘न्याय यात्रा’

सिकंदरपुर, बलिया। सिकंदरपुर कस्बा में दशहरा एवं ताजिया पर्व के दौरान हुए बवाल की न्यायिक जांच एवं दोषियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर भाकपा (माले), सीपीआई (एम), एसयूसीआई (सी), स्वराज अभियान, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, रिहाई मंच एवं दूधिया संघ द्वारा गुरुवार को निकाले गये न्याय यात्रा को पुलिस ने बालूपुर रोड स्थित गांग किशोर गांव के समीप रोक दिया। पुलिस ने कस्बे में निषेधाज्ञा लागू होने का हवाला दिया।

माले नेता श्रीराम चौधरी के नेतृत्व में राष्‍ट्रपति को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी सिकंदरपुर राजेश कुमार यादव को सौंपने के साथ ही कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया। तब जाकर प्रशासन ने राहत की सांस लिया। ज्ञापन में सिकंदरपुर में की गई लूटपाट और आगजनी की न्यायिक जांच कराने दोषियों पर कानूनी कार्रवाई करने, लूटपाट और आगजनी में हुई क्षति का आकलन कर मुआवजा देने, लूटपाट और आगजनी के पीड़ित दुकानदारों का मुकदमा दर्ज करने एवं कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ ही सांप्रदायिक सौहार्द कायम करने की मांग की गयी है। इस दौरान क्षेत्राधिकारी सिकंदरपुर श्री गवान सहाय, थानाध्यक्ष अनिल तिवारी, चौकी प्रभारी देवेंद्र नाथ दुबे, नियाज अहमद, लाल साहब सहित सैकड़ों माले कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

About admin

Check Also

मिर्जापुर: दस मृतक श्रद्धालुओं को मुख्यमंत्री राहत कोष से ढाई-ढाई लाख रूपये व घायलों को मिलेंगे 25 हजार रूपये

मडिहान ( मिर्जापुर )। जिले के मड़िहान थाना क्षेत्र में ट्रक और ट्रैक्टर की सोमवार …