Breaking News
Home / अपराध / वाराणसी: कुंडेसर, उसरी चट्टी व सिकरौरा कांड के चक्रव्यूह में फंसे बाहुबली एमएलसी बृजेश सिंह

वाराणसी: कुंडेसर, उसरी चट्टी व सिकरौरा कांड के चक्रव्यूह में फंसे बाहुबली एमएलसी बृजेश सिंह

वाराणसी। माफिया से माननीय बने एमएलसी बृजेश सिंह की मऊ सदर के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी से प्रतिद्वंदिता पिछले तीन दशकों से चल रही है। मुख्तार ने बृजेश को कुंडेसर और उसरी चट्टी में हुए हमले के मामले में नामजद किया है। मामला कोर्ट में लंबित हैं और लंबे समय से लोगों की निगाहें इसी पर टिकी हैं कि इसमें क्या होगा। बृजेश के करीबी भी इसी मामले को लेकर खासे चिंतित रहते थे। इसमें कार्रवाई आगे बढ़ती उससे पहले सिकरौरा कांड के रूप में बड़ा धमाका हो गया। इस मामले में बृजेश की मुश्किलें इस खातिर भी बढ़ सकती हैं क्योंकि घटना के कुछ घंटों के बाद उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी। इसी वारदात के बाद दो दशक से अधिक समय तक बृजेश पुलिस के हत्थे नहीं चढ़े भले इनाम की रकम बढ़ते हुए पांच लाख तक पहुंच गयी। खास यह भी है कि इस मामले में जिन दूसरे लोगों को आरोपित बनाया गया था वह काफी पहले ही बरी हो चुके हैं। बृजेश के फरार रहने के चलते उनकी फाइल अलग कर दी गयी थी। भुवनेश्वर (उड़ीसा) में नाटकीय ढंग से गिरफ्तारी के बाद एक राज्य से दूसरे में उनके मुकदमे खत्म होते गये। लगभग साढ़े तीन दर्जन मामलों के आरोपित रहे बृजेश के खिलाफ अब सिर्फ छह मामले बचे हैं जिसमें गाजीपुर के दो मामलों के अलावा दिल्ली और उड़ीसा का मामला है। पहले सिकरौरा कांड पर किसी ने ध्यान नहीं दिया और हाईकोर्ट के निर्देश के बाद त्वरित सुनवाई आरम्भ हुई तो मुश्किलें बढ़ती गयी। इस मामले में सात लोगों की सामूहिक हत्या के साथ हत्या प्रयास की धाराएं भी लगी है जिसके गवाह जीवित हैं। बृजेश की तरफ से बचाव पक्ष ने पूरा जोर वारदात के समय उन्हें नाबालिक घोषित करने पर लगाया था। आठवीं और हाईस्कूल के प्रमाणपत्र से इसे साबित करने की कोशिश भी की गयी थी। दूसरी तरफ वादी की तरफ से विधिक पैरोकार राकेश न्यायिक ने डीएल,आर्म्स लाइसेंस, पासपोर्ट व पैन कार्ड समेत इतने कागजात दाखिल कर दिये जिससे मामला उलझता गया। इस आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती देने की तैयारी हो चुकी है। माना जा रहा है कि बचाव पक्ष की तरफ से शीर्ष विधिवेत्ता पैरवी करेंगे जिससे आदेश को खारिज कराया जा सके।

About admin

Check Also

मुख्यमंत्री बोले, इसलिए निकाय चुनाव में उतरी ‘सरकार’

बलिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वे और उनकी सरकार के मंत्री प्रदेश की …