Breaking News
Home / धर्म / डाला छठः प्रसाद में बनता है पुआ व ठोकवा

डाला छठः प्रसाद में बनता है पुआ व ठोकवा

मिर्जापुर। डाला छठ में प्रसाद में पुआ व ठोकवा बनाने के लिए महिलाएं ताजे आटे की मांग करती हैं। इसके लिए घर के पुरूष आढ़त पर गेहूं खरीद कर वहीं साफ कराकर घर ले जा रहे हैं। धो-पछोड़कर गेहूं को पिसाकर प्रसाद का आटा तैयार किया जा रहा है। इसके साथ ही विभिन्न प्रकार के फलों की उपलब्धता की जानकारी ली जा रही है। बाजार में इन दिनों फलों की निरंतर आवक बनी हुई है। जो परिवार दूसरे शहरों में नौकरी कर रहे थे वह भी छुट्टी लेकर अपने घर आ गए हैं। बाजार में एक अजीब सी चहल-पहल बनी हुई है। घाटों पर शुरू हुआ सफाई कार्य- गंगा तटों पर सफाई का काम शुरू हो गया है। नगर में पक्के घाट बने हुए हैं। इसलिए परिवार के लोग व स्वयंसेवी संगठनों के लोग पर्व के लिए साफ-सफाई में जुट गए हैं। नगर पालिका के कर्मचारी भी जुटे हुए हैं और प्रकाश संबंधी व्यवस्था भी ठीक कराई जा रही है। चुनार में भी घाटों की सिल्ट हटाई जा रही है। जिन लोगों को पूजा करनी हैं उनके परिजन दिन-रात एक कर पूजा की जगह साफ कर रहे हैं। नगर में दर्जन भर घाटों पर छठ पूजा होती है। उसको देखने वालों की भी भीड़ बड़ी संख्या में होती है।पीतल के सूप बने आकर्षण का केंद्र- जिला पीतल के बर्तनों के लिए प्रसिद्ध है। यहां के बने पीतल के सूप भी छठ पूजा में अधिक प्रयोग किए जाते हैं। हर व्रती यह चाहता है कि वह कम से कम एक बार पीतल का सूप लेकर उसमें छठ पूजा का प्रसाद चढ़ाए। सूर्य को अघ्र्य देते समय पीतल के सूप की विशेष महिमा बतायी जाती है। विन्ध्याचल में भी बढ़ी रौनक- छठ पूजा को लेकर रौनक बढ़ गई है। सूप, दउरी व डलिया की दुकानें घाटों व बाजारों में सज गई हैं। हालांकि इस क्षेत्र में छठ पूजा करने वाले लोग कम हैं लेकिन पूजा की तैयारी जोरों पर है।

 

About admin

Check Also

…जब पटरी व ठेला दुकानदारों के बीच पहुंचे संजय जायसवाल

बलिया। नगर पंचायत सिकन्दरपुर से अध्यक्ष पद के निर्दल प्रत्याशी संजय जायसवाल ने मंगलवार को …