Breaking News
Home / अपराध / जौनपुर: 38 साल बाद बीएचयू के पूर्व अध्यक्ष को मजिस्ट्रेट ने भेजा जेल

जौनपुर: 38 साल बाद बीएचयू के पूर्व अध्यक्ष को मजिस्ट्रेट ने भेजा जेल

जौनपुर। बीएचयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष एवं फ्रीलांसर काग्रेस के वरिष्‍ठ नेता को बुद्धवार को दीवानी न्यायालय के मजिस्ट्रेट ने 38 साल पुराने एक मामले मे जेल भेज दिया है । मिली जानकारी के अनुसार सन् 1982 मे महराजगंज के वीडीयो पद पर तैनात रहें आईएएसटी डी गौर ने थाना बदलापुर मे  मु०अ०सं० 66 /82 से एक मुकदमा धारा 353 का पंजीकृत कराया था। जिसमे गाली-गलौज देने व सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करने का आरोप लगाया था। घटना के समय पुलिस द्वारा चार्ज सीट दाखिल करने के बाद न्यायालय उपस्थित हो कर जमानत कराने के बाद चंचल कोर्ट नही गये जिसके कारण 15 जून सन् 1984  को कोर्ट ने उनका बेल बांड निरस्त कर उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट, फिर कुर्की  82 – 83 का आदेश कर दिया था, जिसका अब तक अनुपालन न होने पर कोर्ट ने अपना कड़ा रूख अख्तियार किया। तब थाना बदलापुर की पुलिस ने आज गिरफ्तारी कर न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया। चंचल सिंह ने अपने अधिवक्ता के जरिये न्यायालय मे वारन्ट रिकाल करने का प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन मजिस्ट्रेट ने रिकाल प्रार्थना पत्र निरस्त कर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष व कांग्रेस के बरि० नेता चंचल सिंह को जेल भेज दिया है उनके अधिवक्ता दुष्यन्त सिंह ने  जमानत की याचिका दायर किया जिस पर मजिस्ट्रेट ने 9 नवम्बर 2017 की तिथि लगा दिया है।

 

About admin

Check Also

चुनाव के अंतिम समय में भाजपा ने किया रोड-शो

गाजीपुर। चुनाव के अंतिम समय में भाजपा ने नगर में रोड-शो किया। भाजपा का रोड-शो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *