Breaking News
Home / ग़ाज़ीपुर / नोटबंदी का फैसला था साहसिक कदम- प्रमोद वर्मा

नोटबंदी का फैसला था साहसिक कदम- प्रमोद वर्मा

जखनियाँ। नोटबंदी के 1 वर्ष पूरे होने पर  भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने गाँव जाकर लोगो से हाल जाना और पूंछा इससे क्या बदलाव आया है तो लोगो ने कहा शुरू में बैंक में पैसा जमा करने उतारने में समस्या हुई पर अच्छा कदम था जो लोग अवैध कमाई और पैसा रखे थे लोगो के सामने आ गया और आज ऐसे लोग टैक्स के दायरे में आ गये है। जिसके पैसे से कई गरीब परिवारो के लिए परियोजनाओ का शुभारम्भ हुआ और देश भ्रष्‍टाचार से सुधार की तरफ बढ़ा। भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष प्रमोद वर्मा ने कहा नोटबंदी का फैसला साहसिक कदम था, यह निर्णय बहुत पहले ले लेना चाहिए था। पूर्ववर्ती सरकारो में आये दिन घोटालो की खबरे आती थी लेकिन कालेधन पर कोई ठोस कदम नही उठाये। गरीबो के पास खुद के खाते तक नही थे। मोदी सरकार जबसे आयी  विदेशो से काला धन आ रहा है।  नोटबंदी के बाद 368 करोड़ संदिग्ध कैश जमा हुआ 29213 करोड़ अघोषित आय मिला 16000 करोड़ रूपये जो चलन में थे वापस नही आये और 1626 करोड़ की संपत्ति जब्त हुई। 2 लाख फर्ज़ी कंपनियां बंद हुई। इन पैसो से बैंक की स्थिति मजबूत हुई है, सबको रोजगार के लिए बैंको द्वारा आसानी से कम ब्याज दरों पर लोन मिल रहे है और आज टैक्स देने वालो की संख्या में बहुत ज्यादा वृद्धि हुई है जिस पैसे से देश का विकास होंगा। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा ये लोग देश के लोगों को आजतक गुमराह करके भ्रष्टाचारिओ की तिज़ोरी भरी है जब लाखो करोडो के दिन प्रतिदिन घोटाले हो रहे थे तब इनको लोगो की चिंता नही थी। आज नोटबंदी को कालादिवस मना रहे कालादिवस ही मनाना है तो 2जी 3जी, कोलगेट का मनाये जब देश का पैसा लूटकर भ्रष्‍ट लोग विदेशो में भेज रहे थे। वर्मा ने कहा देश मजबूत हाथो में है और विकास की तरफ बढ़ रहा है लोग निश्चिंत रहे। इस मौके मण्डल अध्यक्ष उमाशंकर यादव, धीरेन्द्र सिंह, शिवशंकर चौहान, रविकान्त गुप्ता, यशवंत चौहान, चिन्टू गुप्ता, धर्मवीर भारद्वाज उपस्थित रहे।

 

About admin

Check Also

जी हां! पूर्णतया बंद रहेंगी शराब दुकानें

बलिया। नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन-2017 को स्वतंत्र, निष्पक्ष व शांतिपूर्वक संपन्न कराने तथा लोक शान्ति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *