Breaking News
Home / बनारस / शिक्षामित्रों का ‘मजाक’ उड़ा रहे योगी सरकार के अधिकारी!

शिक्षामित्रों का ‘मजाक’ उड़ा रहे योगी सरकार के अधिकारी!

वाराणसी। सुप्रीम कोर्ट से समायोजन निरस्त होने के बाद से ही समायोजित शिक्षा मित्रों का मजाक योगी सरकार के अधिकारियों द्वारा उड़ाया जा रहा है। एक ऐसा ही मामला बनारस में सामने आया है। यहां के बीएसए बृजभूषण चौधरी ने 7 नवम्बर को पत्र जारी कर समायोजित शिक्षामित्रों को मूल विद्यालय पर शिक्षामित्र के पद भार ग्रहण करने का आदेश दिया था, जबकि शासन से ऐसा अब तक कोई स्पष्ट आदेश जारी नहीं है। समायोजित शिक्षा मित्र समायोजन वाले विद्यालय पर नियमित ड्यूटी कर रहे है। इस बीच, वाराणसी बीएसए द्वारा जारी आदेश से प्रदेश के शिक्षामित्रों में खलबली मच गयी। बीएसए द्वारा जारी आदेश की कॉपी सोशल मीडिया पर वायरल हो गयी। सवाल उठने लगे कि जब शासन ने कोई स्पष्ट आदेश ही नहीं दिया तो बीएसए ने किस आधार पर ऐसा आदेश निर्गत किया है। कुछ लोग यह भी कहते सुने गये कि शासन ने शिक्षामित्रों के बावत इतना जरूर कहा था कि समायोजित शिक्षा मित्रों को कार्यभार ग्रहण करने के लिए विकल्प दिया जायेगा, जिसमें मूल विद्यालय या समायोजन वाला विद्यालय होगा। शिक्षामित्र अपनी इच्छानुसार उक्त में से एक विद्यालय का चयन करेंगे, लेकिन इस बावत सरकार ने कोई आदेश जारी नहीं किया। ऐसे में वाराणसी बीएसए ने 7 नवम्बर को जारी अपने आदेश को 9 नवम्बर को ही निरस्त कर दिया।
 

About admin

Check Also

चुनाव के अंतिम समय में भाजपा ने किया रोड-शो

गाजीपुर। चुनाव के अंतिम समय में भाजपा ने नगर में रोड-शो किया। भाजपा का रोड-शो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *