Breaking News
Home / चंदौली / खेल को खेल भावना के साथ खेलें: बीएसए

खेल को खेल भावना के साथ खेलें: बीएसए

चंदौली। क्षेत्र के कांटा स्थित जनता इंटर कालेज परिसर में मंगलवार को बाल दिवस के अवसर पर सांस्कृतिक व खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसका शुभारंभ बीएसए भोलेंद्र प्रताप सिंह ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष माल्यार्पण करने के साथ ही दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इसके बाद उन्होंने कालेज परिसर में उपस्थित बच्चों को शिक्षा के महत्व की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि खेल को खेल भावना के साथ खेलना चाहिए। खेल गतिविधियों से मानव का मन व मस्तिष्क दोनों स्वस्थ रहता है, जो पढ़ाई-लिखाई के लिए बहुत जरूरी है। इसके अलावा खेलकूद प्रतिविधियों में प्रतिभाग करने आपसी प्रेम व भाईचारा बढ़ता है। कहा कि बच्चों के अंदर प्रतिभाएं होती है, लेकिन अक्सर यह देखने में आता है कि सही मंच व मौका नहीं मिल पाने की वजह से वह अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन नहीं कर पाते। ऐसे बच्चों के लिए यह अवसर काफी मायने रखता है। खंड शिक्षा अधिकारी अमित दुबे ने कहा कि दुनिया में शिक्षा ही एक ऐसी अद्भुत सम्पत्ति है, जिसे न तो कोई बांट सकता है और ना ही उसे हड़प सकता है। इसलिए शिक्षाग्रहण करने में किसी भी प्रकार कोताही नहीं करनी चाहिए। शिक्षा देना शिक्षक की नैतिक जिम्मेदारी है, ठीक उसी तरह शिक्षा को प्राप्त करना हर विद्यार्थी का नैतिक कर्तव्य है। प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष आनन्द सिंह ने खेलकूद व शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डाला और खेलकूद में उत्साहपूर्वक हिस्सा लेने वाले बच्चों के हौसले को सराहा। इस मौके पर महेंद्र प्रताप सिंह, मुहम्मद अकरम, प्रमोद कुमार, रामानन्द यादव, राजकुमार हरिचरन, जियाउद्दीन,  डा. उमेश सिंह, अजय सिंह, आदि उपस्थित रहे।

 

About admin

Check Also

खेलकूद प्रतियोगिता में दिखा नन्हें कलाबाजों का जोश

बलिया। जिला स्तरीय बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता का समापन बीएसए संतोष कुमार राय ने कस्तुरबा व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *