Breaking News
Home / चंदौली / जनसम्पर्कः चुनावी जमीन मजबूत करने में जुटे प्रत्याशी

जनसम्पर्कः चुनावी जमीन मजबूत करने में जुटे प्रत्याशी

चंदौली। नगर निकाय चुनाव की तिथियां जैसे-जैसे करीब आ रही चुनाव प्रचार-प्रसार जोर पकड़ता जा रहा है। इस कड़ी में पुराने व परंपरागत चुनावी तरीका जनसम्पर्क पर सभी प्रत्याशी भरोसा दिखा रहे हैं। सोमवार को सभी प्रतिष्ठित दलों के साथ निर्दल उम्मीदवारों ने नगर भ्रमण कर अपने पक्ष में वोट मांगा। इसी कड़ी में बसपा प्रत्याशी अजय उर्फ कमलेश सोनकर ने पूर्व चेयरमैन सुदर्शन सिंह के साथ नगर में जनसम्पर्क किया। जनता के बीच जाकर उन्हें अपने पक्ष में वोट देने का आह्वान किया। नगर क्षेत्र में सुबह ही जुलूस व नारों का सिलसिला शुरू हो गया था। कुछ उम्मीदवार व उनके समर्थक जहां नारेबाजी करते हुए लोगों के बीच अपनी पैठ को मजबूत बनाने की पुरजोर कवायद कर रहे हैं। सोमवार को भी लगभग सभी उम्मीदवारों ने कई चक्र में जनसम्पर्क जुलूस निकाला। सुबह के वक्त जनसम्पर्क की सिलसिला करीब पूर्वाह्न 11 बजे चला। वहीं शाम होते ही नगर में नारों की गूंज फिर से सुनाई देने लगी। हालांकि कुछ उम्मीदवारों ने बड़ी शालिनता व शांति के साथ नगर में जनसम्पर्क करते हुए नजर आए। प्रतिष्ठित दलों में बसपा उम्मीदवार अजय उर्फ कमलेश सोनकर ने बड़ी सादगी के साथ समर्थकों की छोटी टोली लेकर नगर भ्रमण को निकले, जिसमें नौजवान कार्यकर्ताओं के साथ ही वरिष्ठ नेता व जनप्रतिनिधि शामिल रहे। उन्होंने लोगों के बीच जाकर पार्टी की नीतियां व सिद्धांतों को रखा। साथ ही अपने एजेंडे से भी जनता को रूबरू कराया। वह अपनी टोली के साथ मुख्य बाजार का भ्रमण करने के साथ ही कई वार्डों व मोहल्लों में जाकर अपने लिए वोट मांगते हुए नजर आए। इस दौरान पूर्व चेयरमैन सुदर्शन सिंह, जुबेर अंसारी, सिराजुद्दीन, मन्नान अंसारी, रामअवतार राम, घनश्याम प्रधान, उमापति, संजय, मुन्ना राम, राजकुमार राम, राधे, महेंद्र गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

बसपा ने बागियों को दिखाया बाहर का रास्ता

 

चंदौली। नगर निकाय चुनाव में बगावती तेवर अख्तियार कर पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ ताल ठोंकने वाले कार्यकर्ताओं ने बसपा ने सोमवार को कार्यवाही का चाबुक चलाया। बसपा ने अनुशासनहीता, पार्टी विरोधी गतिविधियों में हिस्सा लेने तथा पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले आधा दर्जन प्रत्याशियों को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। उक्त कार्यवाही से जहां पार्टी विरोधी खेमे से जुड़े कार्यकर्ताओं में हड़कंप मच गया, वहीं बागियों को भी बड़ा झटका लगा है।

विदित हो कि बसपा द्वारा जनपद मुगलसराय नगर पालिका समेत चन्दौली, सैयदराजा व चकिया नगर पंचायत के लिए पार्टी प्रत्याशी की घोषणा के बाद ही बगावती तेवर उठने लगे। पार्टी ने स्थानीय नेताओं के माध्यम से बगावत के उठ रहे स्वर को दबाने का प्रयास किया, लेकिन मामला नहीं बना। इसी बीच बागियों ने नामांकन दाखिल कर पार्टी प्रत्यार्शी के मोर्चा खोल दिया। इसके बाद भी पार्टी के वरिष्ठ नेता बागियों को मनाने में जुटे रहे, लेकिन जब अंतिम समय तक बात नहीं बनी तो हाईकमान ने स्थानीय स्तर पर बागियों की गतिविधियों से पार्टी प्रत्याशी को हो रहे नुकसान की रिपोर्ट तलब की और उसे आधार मानते हुए बागियों को पार्टी से निष्कासित करने का फैसला किया। बसपा ने मुगलसराय से राधेश्याम, रविन्दर अम्बेडकर, प्रदीप कुमार के अलावा नगर पंचायत चन्दौली बिरजू प्रसाद, सैयदराजा नगर से रीता रंजन तथा चकिया से अशोक बागी को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। बसपा जिलाध्यक्ष कन्हैया लाल ने बताया कि उक्त कार्यवाही पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त कार्यकर्ताओं का निष्कासन किया गया है और आगे भी ऐसा करने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी।

 

About admin

Check Also

चंदौली: घर में खाना बना रही दलित किशोरी संग दुष्कर्म

सकलडीहा/धानापुर। सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे घर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *