Breaking News
Home / बलिया / मुख्यमंत्री बोले, इसलिए निकाय चुनाव में उतरी ‘सरकार’

मुख्यमंत्री बोले, इसलिए निकाय चुनाव में उतरी ‘सरकार’

बलिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वे और उनकी सरकार के मंत्री प्रदेश की शहरी आबादी को शहरी योजनाओं से आच्छादित करने के लिए नगर निकाय के चुनाव मे जनता के बीच उतरे हैं। प्रदेश सरकार की योजना सभी नगर निगमों, नगर पालिका परिषदों व नगर पंचायतों को स्मार्ट सिटी की तरह विकसित करने की हैं।

बलिया में मंगलवार को एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की पैंतीस प्रतिशत आबादी शहरों मे रहती है, जो आजतक शहरी योजनाओं की सुविधाओं से वंचित है। नगर निकायों में अच्छे बोर्ड का गठन हों और शहरी योजनाओं का लाभ शहर के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे, इसलिए वे और उनकी सरकार के मंत्री जनता के बीच घूम रहे हैं। उन्होंने कहा कि सपा व बसपा की 12-15 साल की सरकारों ने प्रदेश की नगर निकायों को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया है। तंज कसते हुए कहा कि जब नगर निकायों में सफाई कार्य व शहरी योजनाओं के क्रियान्यवन का फैसला नगर विकास मंत्री करेगा तो वह आम जनता को बुनियादी सुविधा से वंचित करेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अंतिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाने में नगर निकाय की बड़ी भूमिका होती है। इसके लिए जरूरी है कि सरकार को नगर निकाय बोर्ड सक्षम व मजबूत मिले। कहा कि आठ माह में सरकार ने आम जनता तक सुविधा पहुंचाने के लिए बहुत से कार्य किए है। पहले बिजली चार-पांच जिलों तक ही सिमित रहती थी, लेकिन उनकी सरकार ने यह भेद-भाव मिटा दिया है। 14 अप्रैल बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के जन्मदिन से सभी जिला मुख्यालयों को 23-24 घण्टे, तहसील मुख्यालयों को 19-20 घण्टे व ग्रामीण इलाकों मे 17-18 घण्टे बिजली मिल रही है। कहा कि सपा की सरकार गरीबों को 29 हजार आवास देने का ढोल पीटती थी, जबकि उनकी सरकार ने आठ माह में गरीबों को 11 लाख आवास दिया है। इसमें शहरों को तीन लाख आवास मिला है। प्रदेश में कानून का राज स्थापित करने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं। इसमें लापारवाही करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को सरकार जबरिया रिटायर करेगी। कहा कि गरीबों के हक पर डाका डालकर सम्पति बनाने वालों की सम्पति जब्त करके गरीबों में बांट दी जाएगी। उनकी सरकार ने शहरों को अतिक्रमण से मुक्त करने के साथ ही पटरी पर ठेले व रेहड़ी लगाने वालों को स्थापित करने की विशेष योजना बनायी है। मुख्यमंत्री ने नगर निकाय चुनाव में बलिया नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी संजीव कुमार डम्पू समेत भाजपा प्रत्याशियों को जिताने की अपील की। हैलीपेड पर मुख्यमंत्री की आगवानी जिलाध्यक्ष विनोद शंकर दूबे, राज्यमंत्री उपेन्द्र तिवारी, सांसद भरत सिंह व रविन्द्र कुशवाहा, विधायक आनन्द स्वरूप शुक्ल, सुरेन्द्र सिंह, धनन्जय कन्नौजिया तथा संजय यादव, जिला प्रभारी देवेन्द्र सिंह, पुर्व विधायक राम इकबाल सिंह ने आगवानी किया। संचालन नगर विधायक आनन्द स्वरूप शुक्ल ने किया।

सीएम से नहीं मिल पाये चौकीदार

उप्र ग्रामीण पुलिस चौकीदार के प्रभारी अध्यक्ष शारदानंद पासवान के नेतृत्व में सैकड़ों चौकीदार विभिन्न समस्याओं को लेकर पुलिस लाइन में मुख्यमंत्री से मिलने के लिए पहुंचे, लेकिन इन्हें गेट पर ही रोक दिया गया। मुख्यमंत्री के जाने के बाद चौकीदारों को छोड़ा गया। इससे चौकीदारों में रोष है। चौकीदारों ने कहा कि हम मुख्यमंत्री को मांग पत्र देने आये थे, लेकिन सुरक्षा कर्मियों ने गेट पर ही रोक दिया। इससे चौकीदारों की आशाओं पर पानी फिर गया। तेजबहादुर यादव, रामजी राम, सुरेन्द्र कुमार यादव, मनोज पासवान, राजकिशोर, माना पासवान, रामबहादुर यादव, हरि पासवान, उमाशंकर यादव, जयप्रकाश चौहान, रामायण पासवान, जीवंत पाण्डेय, लालजी पासवान, तूफानी पासवान आदि मौजूद रहे।

About admin

Check Also

चंदौली: घर में खाना बना रही दलित किशोरी संग दुष्कर्म

सकलडीहा/धानापुर। सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे घर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *