Home / अपराध / कब्र में शव को दफनाने को लेकर एक ही समुदाय के दो पंथ आमने-सामने
ghazipurkhabar-660x3303 (1)

कब्र में शव को दफनाने को लेकर एक ही समुदाय के दो पंथ आमने-सामने

जौनपुर। रियाजुल हक। जफराबाद थाना क्षेत्र के इमलो गाँव में शुक्रवार को देर शाम शिया जमात के 45 वर्षीय अधेड़ की लाश को द़फनाने का विरोध सुन्नी जमात के कुछ लोगों ने कर दिया। मामला गंभीर होते देख ग्राम प्रधान व अन्य गांव के बुजुर्गों ने पहल कर मामले का निस्तारण कर महौल को शांत किया। उक्त गांव में शिया जमात के लोग रहते हैं। गांव में इनके लिए कब्रिस्तान की जगह नहीं थी। ऐसे में लाश द़फनाने के लिए गांव से बाहर दूसरे गांवों के कब्रिस्तानों में जाते थे। इस वर्ष गांव के चकबंदी में कब्रिस्तान के लिए लगभग पांच बिस्वा की जगह निर्धारित की गई। कब्रिस्तान की जगह को गांव के कुछ सुन्नी जमात के लोगों का मानना है कि पहले से यहां सुन्नी लोग दफनाए जाते थे, इसलिए इस स्थान पर कोई अन्य जमात के लोग नहीं दफनाए जाएंगे। शुक्रवार को देर शाम शिया-सुन्नी को लेकर मामला गंभीर होते देख ग्राम प्रधान व बजुर्ग अहमद रजा, श्यामनारायन,’नफीस हैदर, हसन रजा आदि ने पंचायत कर मामले को शांत कराया व निस्तारण में गांव की कोई भी बिरादरी उक्त स्थान का प्रयोग कब्रिस्तान के रूप में लाश दफनाने के लिए कर सकती है तय किया गया। उसके बाद लाश को दफनाया गया।

About admin

Check Also

unnamed (4)

केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडु ने भरी बलिया में हुंकार

Share this on WhatsAppसिकंदरपुर, बलिया। जब तक दिल्ली से लेकर तहसील और गांव को एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *