Breaking News
Home / चर्चा में / पूर्व मंत्री नारद राय ने तोड़ा बसपा से नाता

पूर्व मंत्री नारद राय ने तोड़ा बसपा से नाता

बलिया। सूबे के पूर्व मंत्री नारद राय ने यह कहते हुए बसपा से नाता तोड़ा लिया कि बसपा में उनके सुझावों की कोई अहमियत नही थी। पार्टी के कोआर्डिनेटर निजी कंपनी के ‘कलेक्शन एजेंट’ के रूप में काम कर रहे हैं। इसकी शिकायत बहनजी से भी की, लेकिन कुछ नहीं हुआ।

पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव व अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री रहे नारद राय विधानसभा चुनाव-2017 से पहले सपा छोड़कर बसपा में आए थे। सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में पूर्व मंत्री ने कहा कि हम छोटे लोहिया, जनेश्वर मिश्र व मुलायम सिंह यादव के लोग हैं। संघर्ष ही हमारी ताकत व पूंजी है। पूर्व मंत्री ने कहा कि विधानसभा चुनाव में बहन जी ने उम्मीदवार बनाया था, मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं।

About admin

Check Also

चंदौली: शहीद चंदन राय के नाम से हो सैदपुर पुल का नामकरण, मंत्री अनिल राजभर ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

चंदौली। सूबे के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार अनिल राजभर ने मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को …