Breaking News
Home / अपराध / दहेज के लिए विवाहिता की बलि, पति समेत तीन पर केस

दहेज के लिए विवाहिता की बलि, पति समेत तीन पर केस

रेवती, बलिया। रेवती थाना क्षेत्र के परमानन्द के डेरा (खरीका) में मंगलवार की रात एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने त्वरित कार्रवाही करते हुए न सिर्फ मृतका के पति, सास व श्वसुर के खिलाफ धारा 498, 304 बी तथा 3/4 डीपी एक्ट का मुकदमा पंजीत किया, बल्कि लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भी भेज दिया।

मृतका की बहन ज्योति यादव द्वारा पुलिस को दी गई तहरीर के मुताबिक मृतका संध्या यादव (25) पुत्री रोहित यादव निवासी कुसौरा थाना बांसडीह रोड की शादी वर्ष 2014 में रेवती थाना क्षेत्र के परमानंद के डेरा (खरिका) निवासी दिनेश यादव पुत्र राम निवास यादव के साथ हुई थी। शादी के तीन महीने तक संध्या अपने घर ठीक ठाक रही। इसके बाद से ही संध्या के पति दिनेश, उसके श्वसुर रामनिवास यादव तथा सास द्वारा दहेज की मांग की जाने लगी। मांग पूरी ना होने पर संध्या को प्रताड़ित किया जाता था। संध्या हम लोगों को इसकी जानकारी भी देती रही, जिस पर ससुरालियों से अनुनय-विनय कर ऐसा न करने को कहा जाता रहा। 10 अक्टूबर की रात्रि ससुरालियों ने संध्या को मार दिया। मृतका संध्या का भाई रुपेश यादव ने बताया कि संध्या की मृत्यु की सूचना रेवती निवासी मेरे मामा संजय यादव तथा उसके देवर ने रात्रि करीब 11.30 बजे मिली। मैं तथा मेरे पड़ोसी राहुल तिवारी रात में ही परमानंद के डेरा पहुंचे, जहां मेरी बहन के ससुराल पक्ष द्वारा लाश को शवदाह के लिए ले जाने की तैयारी की जा रही थी, लेकिन मना करने पर वे लोग रुक गए। मृतका के श्वसुर राम निवास यादव ने बताया कि संध्या गर्भवती थी तथा उसका इलाज चल रहा था। मंगलवार की रात्रि संध्या की तबियत अचानक बिगड़ गई तथा उसकी मृत्यु हो गई। बुधवार की सुबह दहेज हत्या की सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस ने लाश को कब्जे में ले लिया। एसडीएम बैरिया राधेश्याम पाठक, सीओ बैरिया उमेश कुमार, थानाध्यक्ष दोकटी अशोक कुमार यादव ने स्थलीय निरीक्षण कर पूछताछ किया।

About admin

Check Also

चंदौली: शहीद चंदन राय के नाम से हो सैदपुर पुल का नामकरण, मंत्री अनिल राजभर ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

चंदौली। सूबे के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार अनिल राजभर ने मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को …