Breaking News
Home / न्यूज़ प्लस / तीन दिव्यांग संतानों की ‘पीड़ा’ से बिलख रहे माता-पिता

तीन दिव्यांग संतानों की ‘पीड़ा’ से बिलख रहे माता-पिता

बलिया। इसे अभागा माता-पिता कहेंगे या कुछ और? समझना मुश्किल है। क्योंकि इनके संतान तो तीन है, लेकिन सबके सब दिव्यांग। इनकी सुधि लेने वाला कोई नहीं है। सरकार की योजनाएं भी शायद इनके लिए नहीं बनी है। अपने लाडलों की पीड़ा से माता-पिता परेशान है।

सोहांव ब्लाक अंतर्गत बड़काखेत गांव निवासी शिवशंकरकानू को दो लड़का तथा एक लड़की है, लेकिन तीनों दिव्यांग हो गये है। तीनों भाई-बहन खड़ा नहीं हो सकते हैं। सबसे बड़ा लड़का तिरलोकी गुप्ता 24 वर्ष का है, जबकि दूसरा सुभाष गुप्ता 19 वर्ष का। सबसे छोटी लड़की शिवकुमारी 17 वर्ष की है। परिवार की पीड़ा भरी दास्तां प्रदेश सरकार तक पहुंची तो तत्कालीन मंत्री रामगोविंद चौधरी ने सीएमओ बलिया को जांच व इलाज के लिए निर्देश दिया था, लेकिन स्वास्थ्य विभाग आज तक अमल नहीं किया। प्रदेश से लेकर केन्द्र सरकार दिव्यांगों के लिए तमाम योजनाओं का प्रचार-प्रसार कर रही है, लेकिन इन दिव्यांगों को साइकिल तक नहीं मिल पाई है।

About admin

Check Also

चंदौली: शहीद चंदन राय के नाम से हो सैदपुर पुल का नामकरण, मंत्री अनिल राजभर ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

चंदौली। सूबे के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार अनिल राजभर ने मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को …