Breaking News
Home / न्यूज़ प्लस / लखनऊ: अखिलेश मेरे सबसे बड़े राजनीतिक दुश्मन, शिवपाल आज भी हैं मित्र- अमर सिंह

लखनऊ: अखिलेश मेरे सबसे बड़े राजनीतिक दुश्मन, शिवपाल आज भी हैं मित्र- अमर सिंह

लखनऊ। दो बार दूध का जला हूं, इसलिए सपा से मेरा अब दूर-दूर तक भी कोई संबंध नहीं रहेगा। रहा सवाल अखिलेश यादव का तो वो मेरे राजनीतिक दुश्मन हैं, मौका मिलेगा तो उन्हें छोड़ूंगा नहीं। ये कहना है राज्यसभा सदस्य और समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव अमर सिंह को दिए गए एक चैनल के खास इंटरव्यू में उन्होंने अपना मन खोला। क्या अमर सिंह 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए फिर सपा का दरवाजा खटखटाएंगे? जवाब में दिल के दर्द का इजहार करते हुए उन्होंने कहा, इसका तो अब सवाल ही नहीं उठता। जब मेरी तस्वीरों पर पेशाब किया गया, मुझे गाली दी गई। मुझे बाहरी भी कहा गया तो अब गुंजाइश ही कहां बचती है। जब बात घर के अंदर रहती है तो ठीक है, लेकिन बाहर आने पर कोई गुंजाइश नहीं बचती। अमर सिंह की नाराजगी अखिलेश यादव से है या रामगोपाल यादव से, इस बारे में उनका कहना है, “मेरी नाराजगी मुलायम सिंह यादव से है। क्योंकि मेरी और शिवपाल सिंह यादव की निष्ठा मुलायम में थी। हम दोनों को कष्ट भोगना पड़ा। लेकिन आखिरकार बेटे की मुहब्बत में सबको निपटाने वाले मुलायम खुद बेटे से निपट गए। शिवपाल से मेरे संबंध कल थे, आज हैं और आने वाले कल में भी रहेंगे। लेकिन मुलायम सिंह से मैं अब बात नहीं करता हूं। क्योंकि उन्होंने खुद मुझसे कहा था कि अमर सिंह हमारे बेटे अखिलेश, रामगोपाल यादव और आजम खान को तुमसे परेशानी है। इसलिए तुम हमसे मत मिला करो। तो सच मानिए उस दिन का दिन है और आज का, मैं कभी न तो मुलायम सिंह से मिला और न ही उनसे बात की। अखिलेश अगर अमर सिंह से सीएम बनने का आर्शीवाद मांगते हैं तो क्या देंगे? अमर सिंह ने कहा, “हरगिज नहीं, उन्हें यशस्वीभव तो बोल सकता हूं, लेकिन विजयीभव नहीं। और बेहतर होगा कि अब वो घर पर रहकर हमारी बहु के साथ दाम्पत्य जीवन का सुख लें बस।

About admin

Check Also

जौनपुर: नहर मे डूबे ग्राम प्रधान के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन

जौनपुर/बरसठी। स्थानीय विकास खंड के प्रधानों ने दो दिन पूर्व  सुजानगंज विकास खंड के रामनगर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *