Breaking News
Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / लखनऊ: विधानसभा के सामने आलू फेंकने के मामले में पुलिस ने दो सपा नेताओं को किया गिरफ्तार

लखनऊ: विधानसभा के सामने आलू फेंकने के मामले में पुलिस ने दो सपा नेताओं को किया गिरफ्तार

लखनऊ। विधानसभा, सीएम आवास और राजभवन के बाहर बीते 6 जनवरी को सड़कों पर आलू फेंकने के मामले में पुलिस ने कन्नौज से सपा के दो नेताओं को गिरफ्तार किया है। फिलहाल पुलिस टीम दोनों सपा नेताओं से पूछताछ कर रही है। वहीं सीएम योगी के घर समेत 8 जगहों पर आलू फेंकने की घटना में शामिल दोनों नेता अखिलेश यादव के करीबी बताए जा रहे है। लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार ने शनिवार को आलू कांड पर खुलासा करते हुए बताया कि इस पूरे घटना में 6 लोग शामिल थे। वहीं इस घटना में किसान यूनियन के किसी नेता का हाथ नहीं था। एसएसपी ने बताया कि ये नेता नगर पंचायत का चुनाव भी सपा के बैनर तले लड़ चुके है। फिलहाल पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया कि इस घटना के पीछे सिर्फ सरकार को बदनाम करने की साजिश थी। बता दें, कि 8 गाड़ियों में आलू भरकर  विधानसभा, सीएम आवास और राजभवन के बाहर फेंका था। इस मामले में पुलिस ने पहले अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। वहीं पुलिस की जांच में सीसीटीवी तस्वीर में पुलिस ने कुछ लोगों को चिन्हित कर लिया था। इसी कड़ी में पुलिस ने कन्नौज में छापा मारकर सपा का कार्यकर्ता अंकित चौहान और लोडर गाड़ी के ड्राइवर प्रदीप को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि सपा कार्यकर्ता अंकित चौहान तिर्वा कोतवाली के फगुहा भट्टा गांव का रहने वाला है। जबकि लोडर का ड्राइवर प्रदीप ठठिया का रहने वाला है। इस मामले में पुलिस टीम कुछ और गिरफ्तारी कर सकती हैं। दरअसल, किसानों को मंडी में आलू का 4 रुपए का रेट मिल रहा है, जबकि ये लोग 10 रुपए प्रति किलो के हिसाब से आलू के रेट की मांग कर रहे हैं। सुबह के वक्त सड़कों पर आलू मिलने के बाद से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था।

About admin

Check Also

मिर्जापुर: हलिया के कोटाघाट व पहाड़ी के बेलवन नदी पर पुल की स्वीकृति, 32.81 करोड की लागत से होगा निर्माण

मिर्जापुर। जिले की सांसद व केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की मांग पर उत्तर प्रदेश के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *