Breaking News
Home / ग़ाज़ीपुर / हाईकोर्ट ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मानदेय बढ़ाने पर सरकार को दिया तीन माह का वक्त

हाईकोर्ट ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मानदेय बढ़ाने पर सरकार को दिया तीन माह का वक्त

गाजीपुर। महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की बैठक जिला कार्यालय सिकन्दरपुर में रविवार को सम्पन्न हुई। बैठक को सम्बोधित करते हुए मण्डल अध्यक्ष शीला तिवारी ने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय के न्यायधीश विवेक चैधरी जी ने हमारे संघ के सर्विस सं0-795/2018 पर आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रीयों का मानदेय बढ़ाने पर निर्णय के लिए सरकार को तीन माह का समय दिया है। प्रदेश की पौने चार लाख कार्यकत्र्री सहायिका विगत 22 अक्टूबर 2017 से कलम बन्द काम बन्द हड़ताल पर थी। लेकिन सरकार इनकी मांगों पर विचार नहीं कर रही थी और नहीं तो आन्दोलन कार्यो पर लाठी चार्ज कर दो दर्जन महिलाओं को 22 अक्टूबर को गिरफ्तार कर उन्हें जेल में डाल दिया। यहीं तक नहीं सीतापुर की महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की अध्यक्ष नीतू सिंह, मंजू वंशवार, संतोष कुमारी एवं सरिता वर्मा को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम कानून के अन्तर्गत गिरफ्तार कर लिया था। सरकार की हटवारिता को ध्यान में रखकर हमारे प्रदेश अध्यक्ष गिरिश कुमार पाण्डेय ने सर्विस सिंगल बेंच नं0-795/2018 में याचिका दायर की जिसकी सुनवाई कोर्ट नं0-19 में हुई। जिस पर मा0 उच्च न्यायालय ने हड़ताल कर विरोध कर रही प्रदेश की लाखों कार्यकर्ताओं के प्रतिनिधि संगठन महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के विभागाध्यक्ष के समक्ष कोर्ट के आदेश को लगाते हुए अपना प्रत्यावेदन प्रस्तुत करने को कहा है जिस पर सरकार को तीन माह के भीतर विधि सम्मत निर्णय लेना होगा। जिला अध्यक्ष चन्द्रप्रभा सिंह ने कहा कि हमारा संघ उच्च न्यायालय का स्वागत करता है, उच्च न्यायालय के हस्तक्षेप से मानदेय वृद्धि का एलान करने वाली सरकार कृषि उत्पादन आयुक्त से शीघ्र रिपोर्ट लेकर काम की बोझ तले दबी कार्यकत्र्री, मिनी कार्यकत्र्री सहायिकाओं के सेवा सुधार के लिए नियम बनायेगी और न्यूनतम मानदेय 15000/- रूपये करेगी। हमारे जनपद की आगंनबाड़ी कार्यकत्रियां पूर्व नियोजित कार्यक्रम 17 जनवरी, 2018 को सरजू पाण्डेय पार्क जिला मुख्यालय पहुंच कर अपना 13 सूत्रीय मांग पत्र मुख्यमंत्री के नाम प्रस्तुत करेगी। जिला संरक्षक अमरनाथ दूबे ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष के आदेश को हम टाल नहीं सकते चाहे इसके लिए हमें कोई कुर्बानी देनी पड़े। बैठक में जिला महामंत्री माया सिंह, जिला महा सचिव आशा जायसवाल के साथ समस्त ब्लाक अध्यक्ष उपस्थित थी।

About admin

Check Also

मिर्जापुर: हलिया के कोटाघाट व पहाड़ी के बेलवन नदी पर पुल की स्वीकृति, 32.81 करोड की लागत से होगा निर्माण

मिर्जापुर। जिले की सांसद व केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की मांग पर उत्तर प्रदेश के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *